Hindi News »Maharashtra »Mumbai» Ample Mission Bharat Prerna Awards 2018

मानवता को समर्पित डॉ. अनिल मुरारका का ऐम्पल मिशन, भारत प्रेरणा अवॉर्ड से जुड़ा दिव्य सम्मान का एक नया अध्याय

जांबाजी की असाधारण मिसाल कायम करने वाले साधारण लोगों को 'शूरवीर अवॉर्ड' से सम्मानित कर औरों को भी वीरता की प्रेरणा दी।

DainikBhaskar.Com | Last Modified - May 05, 2018, 11:30 PM IST

  • मानवता को समर्पित डॉ. अनिल मुरारका का ऐम्पल मिशन, भारत प्रेरणा अवॉर्ड से जुड़ा दिव्य सम्मान का एक नया अध्याय
    +2और स्लाइड देखें
    अवार्ड से कई लोगों को सम्मानित किया गया।

    गोरेगांव(मुंबई). विशाल हृदय, विनम्रता और शालीन व्यक्तित्व के धनी डॉ. अनिल मुरारका यूं तो हंसमुख और मृदुभाषी हैं, मगर इरादे के इस कदर पक्के और जिद्दी हैं कि एक बार जो मन में ठान लेते हैं, उसे पूरा किए बिना चैन की सांस नहीं लेते। ऐम्पल मिशन भी उनकी इसी जिद और अटल इरादे की जीती-जागती मिसाल है। दादाजी स्व. चिरंजीलाल मुरारका जाने-माने स्वतंत्रता सेनानी थे, जिनसे राष्ट्र प्रेम और संस्कारों की मजबूत आधारशिला उन्हें मिली है। उनके जुनून का इंद्रधनुष आज मुंबई ही नहीं, देश के कोने-कोने में अपना असर दिखा रहा है। वीरता की दी प्रेरणा...


    अनिल मुरारका ने अपने संकल्प एवं दृढ़ इच्छाशक्ति के बल पर 'ऐम्पल मिशन' के माध्यम से जरूरतमंद लोगों को समय पर सहायता पहुंचाई, आदिवासी इलाकों में स्कूलों को गोद लिया, अनाथ एवं दिव्यांग बच्चों की देखभाल तथा असहाय बालिकाओं की शिक्षा का जिम्मा उठाया, युवा प्रतिभाओं के सपनों को ऊंची उड़ान दी, वृद्धाश्रम एवं श्मशान गृह की सुचारू व्यवस्था और मेडिकल कैम्पों का आयोजन कर पुण्य कमाया। पर्यावरण की रक्षा के लिए बड़े पैमाने पर वृक्षारोपण का अभियान चलाया। प्रभावकारी शॉर्ट फिल्में बनाकर युवा पीढ़ी को गुटखा, धूम्रपान एवं आत्महत्या के खिलाफ कड़ा संदेश दिया, जबकि वाघा बोर्डर पर जाकर देश के बहादुर फौजियों का हौसला बढ़ाने की हिम्मत दिखाई और जीवन में जांबाजी की असाधारण मिसाल कायम करने वाले साधारण लोगों को 'शूरवीर अवॉर्ड' से सम्मानित कर औरों को भी वीरता की प्रेरणा दी।

    यूथ फेस्टिवल शुरू कराया

    शहीदों के परिवार को 'अवॉर्ड्स जिंदगी के' से नवाजा, तो असाधारण उपलब्धियां हासिल करने वाले दिव्यांगों की प्रतिभा को 'भारत प्रेरणा अवॉर्ड' से सम्मानित किया। इस साल भारत प्रेरणा अवॉर्ड का रंगारंग आयोजन 14 अप्रैल की शाम शैला लॉन्स, गोरेगांव में हुआ, जिसमें बड़ी संख्या में सितारे भी शामिल हुए। सबने डॉ. अनिल मुरारका की लगन, मेहनत और एकाग्रता की खुले दिल से प्रशंसा की। दरअसल पिता से मिली प्रेरणा ने उन्हें कर्मठ, स्वावलंबी, स्वाभिमानी और दूरदर्शी बनाया है। कॉलेज में कॉमर्स की पढ़ाई की, क्रिकेट टीम की कप्तानी संभाली, स्टूडेंट यूनियन के जनरल सेक्रेटरी बने, युवाओं के सपनों एवं समस्याओं को करीब से देखा और सामाजिक जिम्मेदारियों से जुड़ते चले गए। इंटरकॉलेजियट कॉम्पिटीशन तथा यूथ फेस्टिवल शुरू कराया। इनके इस योगदान को तब एक नई पहचान मिली जब पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे.अब्दुल कलाम ने इन्हें एक भव्य समारोह में सम्मानित किया। इतना ही नहीं, पुरस्कार देते समय उन्होंने अनिल मुरारका की पीठ थपथपाते हुए कहा-'देश को तुम जैसे नौजवानों की ही जरूरत है।'

    अमिताभ बच्चन ने दी कमेंट्री

    कर्मयोगी पिता श्री काशी प्रसाद मुरारका एवं मां मीना मुरारका के आशीर्वाद तथा पत्नी संगीता, पुत्र सिद्धांत, छोटे भाई मनीष एवं उनकी पत्नी शीना के भरपूर सहयोग से ऐम्पल मिशन उनके नेतृत्व में नित नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। फुटपाथ और रेलवे स्टेशन पर गा-बजाकर गुजारा करने वाले छह गुमनाम कलाकारों को उन्होंने एक जगह जमा किया और उनका गाना रिकॉर्ड कर प्रतिभा दिखाने का प्लेटफॉर्म दिया। उनकी इस मुहिम 'जेम्स ऑफ मुंबई' को जैकी श्रॉफ ने पूरे दिल से सपोर्ट किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर डॉ. अनिल मुरारका ने भारत स्वच्छता अभियान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया और ऐम्पल मिशन के बैनर तले एक शानदार शॉर्ट फिल्म का निर्माण किया, जिसमें कंगना रनौट ने धन की देवी लक्ष्मी का अभिनय कर स्वच्छता का संदेश दिया और महानायक अमिताभ बच्चन ने गहरी गूंजती आवाज में कमेंट्री दी। इस वीडियो को अंतरराष्ट्रीय ख्याति मिली और खुद पीएम श्री मोदी ने ट्वीट कर इसकी सराहना की।

    ऐम्पल मिशन के द्वारा हुआ कार्यक्रम

    उनके 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' अभियान को भी ऐम्पल मिशन ने राष्ट्रीय स्तर पर नई गति दी। विपरीत परिस्थितियों और शारीरिक बाधाओं के बावजूद दूसरों के लिए प्रेरणा बनने वाले विलक्षण दिव्यांगों को भारत प्रेरणा अवॉर्ड से सम्मानित कर ऐम्पल मिशन ने अपने कर्तव्य बोध में एक और अध्याय जोड़ा। दुर्घटना में हाथ-पैर गवांने के बाद भी अदम्य इच्छाशक्ति के सहारे नए हौसलों के साथ पेंटर, सिंगर, डीजे, सीए, स्पोर्ट्समैन बनने, हैरतअंगेज कारनामे करने और श्रवणशक्ति न होने के बावजूद अपने भरतनाट्यम से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर देने वाली इन दिव्य विभूतियों को 14 अप्रैल की शाम शैला लॉन्स, गोरेगांव में एक भव्य रंगारंग समारोह भारत प्रेरणा अवॉर्ड 2018 से सम्मानित किया गया, जिसका आयोजन डॉ. अनिल मुरारका के कुशल नेतृत्व में ऐम्पल मिशन ने मीरकेम इंडस्ट्रीज, जोश फाउंडेशन तथा रोटरी क्लब ऑफ मुंबई वेस्टर्न एलीट के सहयोग से किया।

    टीवी, सिनेमा और ग्लैमर जगत के सितारों ने पुरस्कार विजेताओं का हौसला बढ़ाया। मीडिया पार्टनर थे दैनिक भास्कर डिजिटल, रेडियो सिटी 91.1 तथा एनडीटीवी प्राइम। समारोह का आंखों देखा प्रसारण एनडीटीवी प्राइम पर शनिवार 5 मई को दोपहर 12 बजे और रविवार 6 मई को शाम 6 बजे किया जाएगा। मानवसेवा में जुटे ऐम्पल मिशन @AmpleMission को आप Facebook, twitter तथा instagram पर follow कर सकते हैं।

  • मानवता को समर्पित डॉ. अनिल मुरारका का ऐम्पल मिशन, भारत प्रेरणा अवॉर्ड से जुड़ा दिव्य सम्मान का एक नया अध्याय
    +2और स्लाइड देखें
    इवेंट के दौरान बना भव्य स्टेज
  • मानवता को समर्पित डॉ. अनिल मुरारका का ऐम्पल मिशन, भारत प्रेरणा अवॉर्ड से जुड़ा दिव्य सम्मान का एक नया अध्याय
    +2और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×