Hindi News »Maharashtra »Mumbai» Aurangabad Buys 150 Mercedes A Day

एक दिन में 150 मर्सडीज खरीदता है ये शहर, 9 साल में दिए 157 लग्जरी कार एक्सपर्ट

नवंबर 2010 में एक साथ 101 बीएमडब्ल्यू कारें भी बुक की गई थीं

आशीष देशमुख | Last Modified - May 07, 2018, 03:10 PM IST

  • एक दिन में 150 मर्सडीज खरीदता है ये शहर, 9 साल में दिए 157 लग्जरी कार एक्सपर्ट
    +1और स्लाइड देखें
    एक साल का कोर्स, सालाना पैकेज 12 से 20 लाख रुपए तक

    औरंगाबाद.अक्टूबर 2010 में एक साथ 150 से ज्यादा मर्सीडीज खरीदने का ऑर्डर देने वाला औरंगाबाद अब लग्जरी कार कंपनियों को एक्सपर्ट टेक्नीशियन मुहैया करा रहा है। दरअसल, औरंगाबाद में महंगी कारों की बढ़ती बिक्री और शहर की क्षमता को देखते हुए यहां के पॉलिटेक्निक कॉलेज में नौ साल पहले लग्जरी कारों के लिए टेक्नीशियन का कोर्स शुरू किया गया। अब यह पॉलिटेक्निक कॉलेज हाई एंड कारों के टेक्निकल एक्सपर्ट का हब बन गया है। नौ साल में 157 एक्सपर्ट टेक्नीशियन यहां से निकल चुके हैं। इनमें 8 लड़कियां शामिल हैं।

    20 छात्रों को सऊदी अरब, कतर, जर्मनी समेत यूरोप के देशों में नौकरी मिल चुकी है। इनमें चार लड़कियां भी हैं। यहां से निकले राहुल मलेशिया में हैं। कहते हैं कि ‘मेरे पिताजी अब भी अमरूद बेचते हैं पर उन्होंने मुझे यहां भेजा।’ एडवान्स कोर्स इन ऑटोमोटिव मैकेट्रॉनिक्स के इस कोर्स में लग्जरी कारों की टेक्नोलॉजी समझाने से लेकर मरम्मत की ट्रेनिंग दी जाती है। कॉलेज में कोर्स के प्रैक्टिकल के लिए 35 लाख रुपए की नई कार, फॉल्ट ढूंढने वाली ढाई लाख रुपए की किट, तीन लाख रुपए का सॉफ्टवेयर, इंजन की जांच के लिए दो लाख के दो इंजन होल्डिंग स्टैंड और तीन लैब स्थापित किए गए हैं। करीब 15 लाख की आबादी वाले औरंगाबाद में अभी 510 मर्सीडीज कारें हैं, यहां के लोगों ने 2010 में एक साथ 101 बीएमडब्ल्यू कारें भी खरीदी थीं।

    एक साल का कोर्स, सालाना पैकेज 12 से 20 लाख रुपए तक

    यह कोर्स औरंगाबाद के अलावा तिरुवनंतपुरम (गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज), दिल्ली (जीबी पंत इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) और पुणे में भी चल रहा है। यहां से अब तक 558 टेक्नीशियन निकल चुके हैं। सबसे पहले 2007 में पुणे में यह कोर्स शुरू किया गया था। एक साल के कोर्स की फीस करीब 90 हजार रु. है। मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की डिग्री या डिप्लोमा किए छात्रों का टेस्ट के जरिए दाखिला होता है। टॉप-3 छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाती है। कोर्स पूरा होने के बाद सालाना 12 से 20 लाख रु. तक का पैकेज मिलता है।

  • एक दिन में 150 मर्सडीज खरीदता है ये शहर, 9 साल में दिए 157 लग्जरी कार एक्सपर्ट
    +1और स्लाइड देखें
    सुयोग महाजन, बीएमडब्ल्यू, जर्मनी और आयशा फरहीन, पुणे

    इस कोर्स से जीवन बदला

    मैंने कंप्यूटर इंजीनियरिंग की थी। इसलिए मैं इस कोर्स के लिए पात्र नहीं था। फिर मैंने सेंटर के संचालक को रिमोट सेंसिंग कार का मॉडल बनाकर उसका डिटेल्ड प्रजेंटेशन दिया। तब जाकर उन्होंने मुझे सिलेक्ट किया। -सुयोग महाजन, बीएमडब्ल्यू, जर्मनी

    मेरी मां ने मुझे कोर्स के बारे में बताया था। बीटेक के बाद यह कोर्स करने का फैसला किया। अब कार इंजन की बारीकियां सीख रही हूं। कोर्स पूरा होने के बाद जर्मनी जाकर कार मैन्यूफैक्चरिंग मे रिसर्च करने का इरादा है। -आयशा फरहीन, पुणे

Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×