महाराष्ट्र / पूरे प्रदेश में विसर्जन के दौरान 16 लोगों की डूबकर मौत, कुछ अभी भी लापता



during ganesh visarjan in maharashtra at least 12 people drowned
X
during ganesh visarjan in maharashtra at least 12 people drowned

  • गणेश चतुर्थी के साथ 2 सितंबर को गणपति उत्सव शुरू हुआ था
  • विसर्जन को लेकर पूरे शहर में 50,000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 10:43 AM IST

मुंबई. 10 दिन के गणेश उत्सव के बाद देशभर में गुरुवार को गणपति प्रतिमा का विसर्जन किया गया। मुंबई में 129 स्थानों पर एक लाख से ज्यादा प्रतिमा विसर्जन की व्यवस्था की गई थी। शाम 6 बजे तक 22 हजार प्रतिमा समिति की जा चुकी थी। सुरक्षा के लिए 50 हजार पुलिसकर्मी तैनात थे। इसके अलावा हिंसा नियंत्रक, बम जांच और क्विक रिस्पांस टीमें भी तैनात रही। महाराष्ट्र में गणेश विसर्जन के दौरान गुरुवार को पूरे प्रदेश में 16 लोगों की डूबकर मौत हो गई। अभी भी कुछ लोग लापता हैं।  

 

जानकारी के मुताबिक, विसर्जन के दौरान कोकण में पांच, विदर्भ में छह, भंडारा में एक, वर्धा में एक, श्रीरामपुर में एक, कराड में एक और नांदेड में एक व्यक्ति की डूबने से मौत हो गई है। इसके अलावा विसर्जन के लिए गए करीब 3-4 अन्य लोग लापता हैं और उनके भी डूबने की आशंका है।

 

2 सितंबर को गणपति उत्सव शुरू हुआ था
गणेश चतुर्थी के साथ 2 सितंबर को गणपति उत्सव शुरू हुआ था। प्रतिमा विसर्जन के लिए मुंबई महानगर,राज्य की सांस्कृतिक राजधानी पुणे के विभिन्न मंडलों और प्रदेश के अन्य हिस्सों में ढोल-ताशों के साथ श्रद्धालुओं ने पारंपरिक श्रद्धा एवं उल्लास के साथ झांकियां निकालीं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी इको फ्रेंडली गणेश प्रतिमा के विसर्जन से पहले पूजा-अर्चना की।

 

मुंबई में 129 स्थानों पर विसर्जन
मुंबई में गिरगांव चौपाटी, शिवाजी पार्क, जुहू, वर्सोवा और मार्वे बीच तथा कई तालाबों सहित 129 स्थानों पर प्रतिमाओं को विसर्जित किया गया।  विसर्जन को लेकर पूरे शहर में 50,000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। 5,000 से अधिक सीसीटीवी कैमरों से भी झांकियों की निगरानी की गई।

 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना