पुणे / सिर्फ एक घंटे की बारिश से शहर के कई इलाकों में भरा पानी, इंडिगो एयरलाइन्स ने जारी की एडवाइजरी

शहर के कई इलाकों में कारें पानी में डूबी। शहर के कई इलाकों में कारें पानी में डूबी।
X
शहर के कई इलाकों में कारें पानी में डूबी।शहर के कई इलाकों में कारें पानी में डूबी।

  • मानसून का सीजन 30 सितंबर तक माना जाता है
  • मौसम विभाग का कहना है कि यह मानसून की बारिश नहीं है

दैनिक भास्कर

Oct 04, 2019, 08:44 PM IST

पुणे. शहर के कई इलाकों में शनिवार शाम को हुई तकरीबन एक घंटे की बारिश के बाद सड़कों पर कई फीट पानी भर गया। इस दौरान कई गाड़ियां पानी में डूबी नजर आईं। मौसम विभाग का कहना है कि यह मानसून की बारिश नहीं है। बता दें कि मानसून का सीजन 30 सितंबर तक माना जाता है। 

 

इंडिगो ने जारी की एडवाइजरी

भारी बारिश को देखते हुए इंडिगो एयरलाइन ने ट्विटर पर एक एडवाइजरी जारी की है। इंडिगो ने लिखा है, 'पुणे में भारी बारिश हो रही है। इसलिए हम यात्रियों को सलाह देंगे कि वे पर्याप्त समय लेकर घर से एयरपोर्ट के लिए निकले।' 

 

नहीं है मानसूनी बारिश

भारत मौसम विज्ञान विभाग,  पुणे के मौसम विभाग के प्रमुख अनुपम कश्यप ने कहा कि यह बारिश गरज के साथ आई है। आमतौर पर ऐसी बारिश शाम के समय में होती है। दिन में अधिक तापमान के कारण वाष्प बादल का रूप लेते हैं और शाम को बारिश हो जाती है।

 

भारी नमी वाले ऐसे बादलों को कमुलोनिम्बस बादलों के रूप में जाना जाता है और इसकी ऊंचाई नौ से 15 किलोमीटर तक होती है जिसका व्यास पांच से आठ किलोमीटर होता है। इस तरह के कई क्यूम्यलोनिम्बस बादल भारी वर्षा करते हैं।

 

बाढ़ के चलते 12 लोगों की हुई थी मौत

25 सितंबर की रात भी ऐसे ही बादलों के कारण भयंकर बारिश हुई थी जिससे पुणे के दक्षिण इलाको में बाढ़ आ गई थी। सहकार नगर इलाके में दीवार गिरने से 12 लोगों की मौत हो गई थी। इसके अलावा बाढ़ से करीब 150 घरों को नुकसान हुआ था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना