महाराष्ट्र / हाईकाेर्ट के दूसरे सबसे सीनियर जज जस्टिस धर्माधिकारी ने इस्तीफा दिया, कहा- मैं मुंबई से बाहर जाना नहीं चाहता, इसलिए फैसला किया

जस्टिस धर्माधिकारी जस्टिस धर्माधिकारी
X
जस्टिस धर्माधिकारीजस्टिस धर्माधिकारी

  • जस्टिस धर्माधिकारी ने कहा- चीफ जस्टिस बनाकर दूसरे राज्य में भेजा जा रहा थाव
  • 14 नवंबर 2003 को बाॅम्बे हाईकाेर्ट के जज बने थे, 2022 में सेवानिवृत्त हाेने वाले थे

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2020, 07:48 AM IST

मुंबई . बॉम्बे हाईकाेर्ट के दूसरे सबसे सीनियर जज जस्टिस एससी धर्माधिकारी ने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्हाेंने इस्तीफे की वजह निजी और पारिवारिक बताई है। जस्टिस धर्माधिकारी ने शुक्रवार काे पत्रकाराें से कहा कि उन्हें चीफ जस्टिस बनाकर दूसरे राज्य में भेजा जा रहा था, जबकि वह मुंबई नहीं छाेड़ना चाहते हैं। उन्हाेंने कहा, ' मैंने बिल्कुल निजी और पारिवारिक कारणाें से इस्तीफा दिया है। मैं मुंबई नहीं छाेड़ना चाहता हूं और वे मुझे बाॅम्बे हाईकाेर्ट में चीफ जस्टिस बनाने काे तैयार नहीं हैं।’ 

राष्ट्रपति को भेजा इस्तीफा

इससे पहले हाईकाेर्ट में जस्टिस धर्माधिकारी ने वकील मैथ्यू नेदमपारा काे अपने इस्तीफे की जानकारी तब दी, जब उन्हाेंने एक याचिका की सुनवाई के लिए अगले हफ्ते की तारीख मांगी। जस्टिस धर्माधिकारी ने कहा, ‘मैंने इस्तीफा दे दिया है, आज यहां मेरा अंतिम दिन है।’ उन्हाेंने गुरुवार शाम काे ही अपना इस्तीफा राष्ट्रपति काे भेज दिया है।

2003 में बॉम्बे हाईकोर्ट के जज बने थे

जस्टिस धर्माधिकारी 14 नवंबर 2003 को बाॅम्बे हाईकाेर्ट के जज बने थे। वह 2022 में सेवानिवृत्त हाेते। पिछले साल सितंबर में मद्रास हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस वीके ताहिलरमानी ने इस्तीफा दे दिया था। वह सुप्रीम काेर्ट काॅलेजियम के उस निर्णय से नाराज थी, जिसमें उनका तबादला मेघालय हार्ईकाेर्ट में कर दिया गया था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना