रिपोर्ट / दुनिया में सोने की मांग 3 फीसदी बढ़ी जबकि भारत में 32 प्रतिशत कम हुई



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • देश में नौ महीने में 90.5 टन सोना किया गया रिसाइकल

  • तीन महीने में 41,297 करोड़ रुपये के सोने की मांग रही

Dainik Bhaskar

Nov 05, 2019, 05:58 PM IST

मुंबई. विश्व में जुलाई से सितंबर महीने की तीसरी तिमाही में सोने की मांग 3 फीसदी अधिक यानी कुल 1,107.9 टन रही। इसके विपरीत भारत में इसी कालावधि के दौरान सोने की डिमांग 32 प्रतिशत कम रही। जो लगभग 123.9 टन रही। 

 

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (भारत) के मैनेजिक डायरेक्टर सोमसुंदरम पीआर ने बताया कि 2018 में भारत में जुलाई से सितंबर महीने के दौरान 183.2 टन सोने की मांग थी। जिसकी कुल कीमत 50 हजार 085 करोड़ रुपये थे। मगर इस वर्ष जुलाई से सितंबर महीने में सोने की मांग देश में 32 प्रतिशत कम हुई है। इस कालवधि में सोने की मांग 59.3 टन घटकर 123.9 टन रही। जिसकी कुल कीमत 41 हजार 297 करोड़ रुपये रही। उन्होंने कहा कि सोने की मांग देश में घटने की वजह से इस साल के अंत तक सालभर के दौरान 700 से 750 टन सोने की मांग रहने की उम्मीद है। 

 

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के अनुसार 2018 में जुलाई से सितंबर के बीच सोने के आभूषणों (ज्वैलरी) की कुल मांग 148.8 टन थी, जबकि इस बार इस कालावधि में सोने के आभूषणों की मांग 32 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई है। यह इस तिमाही में 101.6 टन है। सोमसुंदरम पीआर बताते हैं कि भारत में सोने और सोने से बने आभूषणों की मांग घटने के बावजूद जनवरी से सितंबर 2019 तक कुल सोने की रिसाइक्लिंग कराने की मात्रा है। इस कालावधि में कुल  90.5 टन सोने की रिसाइक्लिंग की गई है। जबकि वर्ष 2017 में 88.4 टन और वर्ष 2018 में 87.1 टन सोने की रिसाइक्लिंग की गई थी। 

 

हो सकती है गोल्ड स्मगलिंग में वृद्धि
एक सवाल के जवाब में वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (भारत) के मैनेजिक डायरेक्टर ने कहा दोहरा कि देश में तस्करी के माध्यम से लगभग 95-100 टन सोने अब तक आता रहा है। चूंकि इस साल सोने की कीमत बढ़ी हुई है लिहाजा गोल्ड की स्मगलिंग में 10-15 फीसदी की वृद्धि हो सकती है। यही वजह है कि देशभर के विभिन्न एयरपोर्ट पर रोजना स्मगलिंक कर सोना लाए जाने के मामले सामने आ रहे हैं। 


वर्ल्ड में सोने की मांग की स्थिति

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के अनुसार वर्ल्ड में सोने की मांग में 3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई है। 2018 में जुलाई से सितंबर के दौरान 1,079 टन सोने की मांग रही जबकि इस वर्ष इस कालावधि के दौरान 1,107.9 टन रही है। भारत की तरह ही वर्ल्ड में सोने के आभूषणों की मांग में गिरावट देखी गई है। इस वर्ष की तीसरी तिमाही में 16 फीसदी की कमी दर्ज हुई है। 2018 में जुलाई से सितंबर के दौरान 546.2 टन सोने के आभूषण की मांग थी जबकि इस साल इसी कालावधि के दौरान 16 फीसदी कम यानी 460.9 टन सोने के आभूषण की मांग रही। 

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना