पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ट्रेन से गिरे युवक को बचाने के लिए 2 किमी पीछे चली ट्रेन, सेंट्रल रेलवे ने कहा- एक जिंदगी बचाने के लिए लोको पायलट और गार्ड का सम्मान होगा

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • गार्ड ने ट्रेन ड्राइवर को युवक के गिरने की सूचना दी, इसके बाद रेल प्रशासन ने ट्रेन पीछे ले जाने का निर्णय लिया
  • घायल युवक को उठाने के बाद जलगांव स्टेशन पर छोड़ा, वहां पहले से तैयार एंबुलेंस से उसे हॉस्पिटल भेजा गया

जलगांव. महाराष्ट्र के जलगांव में गुरुवार को एक जख्मी युवक की जान बचाने के लिए रेलवे ने ट्रेन को उल्टी दिशा में चलाया। दरअसल, युवक चलती ट्रेन से ट्रैक पर गिर पड़ा था। गार्ड ने देखा तो इसकी सूचना लोको पायलट को दी। इसके बाद रेलवे प्रशासन ने ट्रेन को दो किमी पीछे की ओर चलाने का निर्णय लिया। इसके बाद युवक को रेलवे स्टेशन पहुंचाया गया, जहां पहले से तैयार एंबुलेंस से जीआरपी ने युवक को अस्पताल में भर्ती कराया। युवक खतरे से बाहर है। 


जानकारी के मुताबिक, परधाडे स्टेशन से देवलाली भुसावल पैसेंजर ट्रेन, नंबर 51181 गुरुवार सुबह करीब 9.30 बजे निकली। इस दौरान ट्रेन में सफर कर रहा राहुल संजय पाटील (27) अचानक नीचे गिर पड़ा। ट्रेन करीब दो किमी आगे जा चुकी थी। इसी बीच ट्रेन के लोको पायलट दिनेश कुमार को गार्ड ने युवक के ट्रेन से गिरने की सूचना दी। इस पर लोको पायलट, गार्ड और रेलवे प्रशासन ने संयुक्त रूप से युवक को बचाने का निर्णय लिया। 

डॉक्टर ने कहा- राहुल को आईसीयू में रखा गया है
घायल राहुल को स्थानीय निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। राहुल का उपचार कर रहे न्यूरो सर्जन डॉ. राजेश डाबी ने बताया कि फिलहाल राहुल खतरे से बाहर है। अगर वक्त पर राहुल को नहीं लाया जाता तो उसकी जान भी जा सकती थी। राहुल को अभी आईसीयू में रखा गया है।