विधानसभा चुनाव / इस चुनावी रण में एक मुख्यमंत्री, दो पूर्व मुख्यमंत्री और दो पूर्व उपमुख्यमंत्री ठोक रहे हैं ताल



Maharashtra Assembly election: This time one cm, two ex cm and two deputy cm in election field
X
Maharashtra Assembly election: This time one cm, two ex cm and two deputy cm in election field

  • पूर्व मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्रियों के बेटे, बेटी और उनकी पत्नी उनकी सियासत को आगे बढ़ा रही हैं
  • विधानसभा चुनाव के मैदान में एक मुख्यमंत्री, दो पूर्व मुख्यमंत्री और तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों के बेटे और बेटियों की प्रतिष्ठा दांव पर होगी

दैनिक भास्कर

Oct 11, 2019, 01:42 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में प्रदेश के वर्तमान और पूर्व मुख्यमंत्रियों का दबदबा बरकरार है। विधानसभा चुनाव के मैदान में एक मुख्यमंत्री, दो पूर्व मुख्यमंत्री और तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों के बेटे और बेटियों की प्रतिष्ठा दांव पर होगी। जबकि इस चुनावी समर में दो पूर्व उपमुख्यमंत्री भी कूदे हैं। दो पूर्व मुख्यमंत्रियों की बेटी और पत्नी भी जोर आजमाइश कर रही हैं। पूर्व मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्रियों के बेटे, बेटी और उनकी पत्नी उनकी सियासत को आगे बढ़ा रही हैं।

  • मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस

    मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस

    प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भाजपा की ओर से नागपुर दक्षिण-पश्चिम सीट से मैदान में हैं। फडणवीस के मुकाबले में कांग्रेस ने आशीष देशमुख को जिम्मेदारी दी है। 

  • पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण

    पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण

    प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण नांदेड़ की भोकर सीट से मैदान में हैं।अशोक चव्हाण उस राजनीतिक वंश से ताल्लुक रखते हैं जिसका महाराष्ट्र की सियासत पर गहरा असर रहा है। उनके पिता शंकर राव चव्हाण न सिर्फ महाराष्ट्र के 2 बार मुख्यमंत्री रहे बल्कि केंद्र में कांग्रेस सरकार में कई दफे मंत्री भी रहे। महाराष्ट्र के सियासी इतिहास में पहली दफे ऐसा हुआ है कि पिता-पुत्र ने मुख्यमंत्री पद संभाला। 

  • पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार

    पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार

    प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से पुणे की बारामती सीट से विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। अजित के खिलाफ भाजपा ने गोपीचंद पडलकर को उम्मीदवार बनाया है। अजित दो बार राज्य में उपमुख्यमंत्री पद संभाल चुके हैं।

  • पूर्व उपमुख्यमंत्री छगन भुजबल

    पूर्व उपमुख्यमंत्री छगन भुजबल

    पूर्व उपमुख्यमंत्री छगन भुजबल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की तरफ से
    नाशिक की आंवला सीट से उम्मीदवार हैं। भुजबल के खिलाफ शिवसेना के उम्मीदवार संभाजी पवार हैं। भुजबल तीन बार प्रदेश के उपमुख्यमंत्री रहे हैं।

  • पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण

    पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण

    प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण को कांग्रेस ने सातरा की कराड-दक्षिण सीट से दोबारा उतरा है। चव्हाण के खिलाफ भाजपा ने डॉ. अतुल भोसले को उम्मीदवारी दी है। पृथ्वीराज एक बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। वहीं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण नांदेड़ की भोकर सीट से मैदान में हैं। 

     

     

  • प्रणिती शिंदे

    प्रणिती शिंदे

    पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे की बेटी प्रणिती शिंदे सोलापुर शहर मध्य सीट से कांग्रेस की उम्मीदवार हैं। प्रणिती के खिलाफ शिवसेना से दिलीप माने उम्मीदवार है। प्रणिती के पिता सुशील कुमार एक बर राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 

     

  • अमित और धीरज देशमुख

    अमित और धीरज देशमुख

    प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत विलासराव देशमुख के बेटे अमित देशमुख और धीरज देशमुख चुनावी मैदान में हैं। विलासराव के बड़े बेटे अमित लातूर शहर सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार है।

     

    धीरज देशमुख लातूर ग्रामीण सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। धीरज के सामना शिवसेना से सचिन देशमुख खड़े हैं।

     

  • नितेश राणे

    नितेश राणे

    पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के छोटे बेटे नितेश राणे को भाजपा ने सिंधुदुर्ग की कणकवली सीट से टिकट दिया है। नितेश का मुकाबला कांग्रेस के उम्मीदवार सुशील राणे और शिवसेना के बागी सतीश सावंत से है। साल 2014 के विधानसभा चुनाव में नितेश ने कांग्रेस के टिकट पर इस सीट से जीत हासिल की थी। 

  • पंकजा मुंडे

    पंकजा मुंडे

    प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री रहे दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की बेटी व राज्य की ग्रामीण विकास मंत्री पंकजा मुंडे बीड की परली सीट से भाजपा की उम्मीदवार हैं। पंकजा को कड़ी टक्कर देने के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने विधान परिषद में विपक्ष के नेता व पंकजा के चचेरे भाई धनंजय मुंडे को मैदान में उतारा है। गोपीनाथ एक बार उपमुख्यमंत्री रहे हैं।

  • सुमन पाटील

    सुमन पाटील

    राज्य पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत आर.आर पाटिल की पत्नी सुमन पाटील को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने सांगली की तासगांव-कवठेमहांकाल सीट से दोबारा जिम्मेदारी दी है। सुमन के खिलाफ शिवसेना ने अजितराव घोरपडे को प्रत्याशी बनाया है। पाटील एक बार राज्य के उपमुख्यमंत्री थे।

    DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना