महाराष्ट्र / कांग्रेस के टिकट पर पूर्व सीएम के दो बेटे चुनाव मैदान में, तीसरा बेटा है फिल्म स्टार



अमित देशमुख(बाएं) और धीरज देशमुख(दाएं)-फाइल अमित देशमुख(बाएं) और धीरज देशमुख(दाएं)-फाइल
दोनों भाइयों ने एक साथ नामांकन दायर किया था। दोनों भाइयों ने एक साथ नामांकन दायर किया था।
X
अमित देशमुख(बाएं) और धीरज देशमुख(दाएं)-फाइलअमित देशमुख(बाएं) और धीरज देशमुख(दाएं)-फाइल
दोनों भाइयों ने एक साथ नामांकन दायर किया था।दोनों भाइयों ने एक साथ नामांकन दायर किया था।

  • पूर्व सीएम विलासराज देशमुख के दो बेटे अमित और धीरज लातूर जिले की दो सीट से चुनाव लड़ रहे हैं
  • उनके तीसरे बेटे रितेश देशमुख फिल्म स्टार हैं, लातूर जिला कांग्रेस का गढ़ माना जाता है

Dainik Bhaskar

Oct 07, 2019, 06:45 PM IST

लातूर. महाराष्ट्र के लातूर जिले में पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख के दो बेटे अमित और धीरज कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। दोनों भाई की विधानसभा क्षेत्र एक-दूसरे के पड़ोस में है। लातूर शहर विधानसभा से जहां अमित मैदान में हैं। वहीं, उनके भाई धीरज लातूर ग्रामीण सीट से पहली बार चुनावी दंगल में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इनके तीसरे भाई रितेश देशमुख फिल्म स्टार हैं।

 

लातूर में अमित के खिलाफ भाजपा ने शैलेश लाहोटी को मैदान में उतारा है। वहीं लातूर ग्रामीण से शिवसेना के सचिन देशमुख धीरज के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। सचिन भी पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख के परिवार से ताल्लुक रखते हैं। 

 

कांग्रेस का गढ़ रहा है लातूर 
लातूर शहर विधानसभा सीट कांग्रेस का गढ़ मानी जाती है। यहां 1957 से लेकर अब तक सिर्फ दो बार कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा है।  2009 और 2014 के विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस प्रत्याशी अमित देशमुख यहां से जीत दर्ज कर चुके हैं। वहीं, लातूर ग्रामीण सीट पर अब तक 12 बार चुनाव हुए हैं, जिसमें 11 पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है।

 

नामांकन के वक्त रितेश भी थे 
अभिनेता रितेश देशमुख अपनी पत्नी जेनेलिया के साथ अमित और धीरज के नामांकन के वक्त लातूर में मौजूद थे। चुनावी जनसभाओं में भी रितेश दोनों भाइयों के लिए वोट मांगते नजर आ रहे हैं। इसके अलवा उनकी मां वैशाली ताई देशमुख भी लातूर में बेटों को जिताने के लिए कैम्पेन कर रही हैं।

 

भाजपा से नाराज हैं स्थानीय नेता
भाजपा को लातूर में अपने नेताओं से विरोध का सामना करना पड़ रहा है। लातूर ग्रामीण से खुद को टिकट का दावेदार बताने वाले भाजपा नेता रमेश कराड ने पार्टी से नाराज होकर निर्दलीय चुनाव में उतरे हैं। माना जा रहा है कि उनका यह कदम भाजपा के वोट बैंक को प्रभावित कर सकता है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना