महाराष्ट्र / साल 2014 में वोटरों को लुभाने के लिए 5 बड़ी पार्टियों ने खर्च किए करीब 524 करोड़ रुपए

Poll Expenses: Maharashtra Assembly Vidhan Sabha Election Chunav 2019 News Update
X
Poll Expenses: Maharashtra Assembly Vidhan Sabha Election Chunav 2019 News Update

  • भाजपा, शिवसेना, कांग्रेस, राकांपा और मनसे जैसे प्रमुख दलों ने कुल 524 करोड़ 56 लाख 31 हजार 945 रुपए खर्च किए थे
  • उम्मीदवारों की ओर से चुनाव आयोग को दिए एफिडेविट में यह बात सामने आई है

 

दैनिक भास्कर

Sep 26, 2019, 07:17 PM IST

मुंबई(विनोद यादव). विधानसभा चुनावों में हर पार्टी वोटर्स को लुभाने के लिए करोड़ों रुपए पानी की तरह बहाती है। साल 2014 के विधानसभा चुनावों में भाजपा, शिवसेना, कांग्रेस, राकांपा और मनसे जैसे प्रमुख दलों ने कुल 524 करोड़ 56 लाख 31 हजार 945 रुपए खर्च किए थे। यह खुलासा उम्मीदवारों की ओर से चुनाव प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद चुनाव आयोग को दिए एफिडेविट से हुआ है।

यहां खर्च हुई थी यह राशि

यह राशि स्टार प्रचारकों के हवाई दौरे, पार्टी के अन्य बड़े नेताओं की यात्रा, विज्ञापन, ब्लक एसएमएस भेजने, पोस्टर, बैनर, स्टिकर जैसी प्रचार सामग्री, चुनावी सभाओं सहित अन्य जरूरी चीजों पर खर्च की गई थी।

स्टार प्रचारकों की हवाई यात्रा पर 2014 में सर्वाधिक महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस की ओर खर्च किया गया। यह खर्च 7,52,01,287 रुपए था। मुंबई कांग्रेस ने 12,848 रुपए अपने स्टार प्रचारकों पर अलग से खर्च किए थे। परंतु भाजपा ने चुनाव आयोग को दिए अपने हलफनामे में 2014 के विधानसभा चुनाव में अपने स्टार प्रचारकों पर एक रुपए का भी खर्च नहीं दिखाया। जबकि राकांपा ने स्टार प्रचारकों के दौरों पर 3,76,61,525 रुपए और शिवसेना ने 2,18,59,053 रुपए खर्च किए थे।

भाजपा ने 2014 का विधानसभा चुनाव शिवसेना से वर्षों पुराना गठबंधन तोड़कर लड़ा था। इसमें भाजपा ने 122 सीटों पर जीत हासिल की थी। भाजपा ने विधानसभा चुनाव पर किए गए खर्च की जो जानकारी निर्वाचन आयोग को सौंपी है। उसमें विज्ञापन पर कुल 105 करोड़ 55 लाख 06 हजार 925 रुपए का खर्च दिखाया। इस मद में राकांपा ने 26 करोड़ 38 लाख रुपए खर्च किए। कांग्रेस ने 24 करोड़ 96 लाख 22 हजार 817 रुपए, शिवसेना ने 11 करोड़ 78 लाख 50 हजार 717 रुपए, मनसे ने 72,54,952 रुपये और मुंबई कांग्रेस ने 2 लाख 7 हजार 164 रुपए खर्च किए।

सभी राजनीतिक दलों ने 2014 के विधानसभा चुनाव में पोस्टर्स, बैनर्स, बैचेस, स्टिकर, होर्डिंग, कटआउट और झंड़ों जैसी प्रचार सामग्री पर दिल खोलकर पैसा खर्च किया था। भाजपा, शिवसेना, कांग्रेस, राकांपा और मनसे जैसे प्रमुख दलों ने ही अकेले इन चीजों पर 12 करोड़ 95 लाख 20 हजार 414 रुपए खर्च किए थे। यदि इसमें एमआईएम, सपा, शेकाप, सहित अन्य छोटे दलों के खर्च को जोड़ लिया जाए, तो यह खर्च और अधिक होता है। भाजपा ने प्रचार सामग्री पर 5 करोड़ 33 लाख 61 हजार 724 रुपए, राकांपा ने 4 करोड़ 19 लाख 34 हजार 40 रुपए, शिवसेना ने 1 करोड़ 90 लाख 27 हजार 19 रुपए, कांग्रेस ने 28 लाख 68 हजार 500 रुपए, मनसे ने 1 करोड़ 23 लाख 29 हजार 131 रुपए खर्च किए थे।

2014 के विधानसभा चुनाव में सभी राजनीतिक दलों ने चुनावी सभाएं की थी। मगर यह जानकारी चौकाने वाली है कि भाजपा, शिवसेना और मनसे ने चुनाव आयोग को दी जानकारी में चुनावी सभाओं पर खर्च शून्य दिखाया है। हालांकि महाराष्ट्र कांग्रेस ने 3 करोड़ 04 लाख 29 हजार 049 रुपये, राकांपा ने 9 लाख 22 हजार 433 रुपये और मुंबई कांग्रेस ने 90 हजार रुपए चुनावी सभाओं और रैलियों पर खर्च होने की जानकारी चुनाव आयोग को दी है। राजनीतिक जानकरों का कहना है कि जिन दलों ने चुनावी सभाओं और रैलियों पर खर्च शून्य दिखाया है। संभवतः उन्होंने यह खर्च पार्टी के खाते में न दिखाकर अपने उम्मीदवारों के खर्च में अलग से दिखाया होगा। 

 

अन्य चीजों पर खर्च करने के मामले में राज ठाकरे 2014 के विधानसभा चुनाव में अव्वल थे। उन्होंने कुल 2 करोड़ 68 लाख 78 हजार 768 रुपये खर्च करने की जानकारी चुनाव आयोग को दी है। मनसे के बाद राकांपा ने 1 करोड़ 12 लाख 77 हजार रुपये, शिवसेना ने 1 करोड़ 28 लाख 36 हजार 577 रुपये, कांग्रेस ने 7 लाख 05 हजार 519 रुपए और मुंबई कांग्रेस ने 2 लाख 94 हजार 345 रुपए अन्य चीजों पर खर्च किए। 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना