महाराष्ट्र / शिवसेना के सरकार बनाने पर निर्णय जल्द, एनडीए से अलग हो सकती है शिवसेना



Maharashtra goverment formation news and update is shivsena form his government sanjay raut
X
Maharashtra goverment formation news and update is shivsena form his government sanjay raut

  • कांग्रेस और एनसीपी इसपर अपनी अंतिम राय सुबह 10 बजे होने वाली बैठक के बाद रखेगी
  • इससे पहले सोमवार सुबह कांग्रेस के महाराष्ट्र प्रभारी मलिकार्जुन खडगे ने कहा कि उन्होंने अब तक कोई निर्णय नहीं लिया है

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2019, 08:56 AM IST

मुंबई. महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जारी खींचतान के बीच राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने रविवार शाम को शिवसेना को सरकार बनाने के लिए अपने दावे को पेश करने के लिए कहा है। इसके लिए सोमवार शाम 7 बजे तक का समय है। इस मुद्दे को लेकर शिवसेना कुछ ही देर में कोई बड़ा निर्णय ले सकती है। वहीं कांग्रेस और एनसीपी इसपर अपनी अंतिम राय सुबह 10 बजे होने वाली बैठक के बाद रखेगी। दोनों पार्टियां अलग-अलग बैठक कर रही हैं। इससे पहले सोमवार सुबह कांग्रेस के महाराष्ट्र प्रभारी मलिकार्जुन खडगे ने कहा कि उन्होंने अब तक कोई निर्णय नहीं लिया है, उन्होंने अंतिम फैसला पार्टी आलाकमान के लिए छोड़ दिया है।  

 

बता दें कि इससे पहले राज्यपाल ने भाजपा को सरकार बनाने का न्यौता दिया था। बहुमत न होने के कारण बीजेपी ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया है। ऐसे में राज्यपाल ने शिवसेना को सरकार बनाने का मौका दिया। बीजेपी और शिवसेना दोनों ने गठबंधन कर विधानसभा चुनाव लड़ा था। चुनाव परिणाम के बाद शिवसेना सीएम पद को लेकर अढ़ गई, जिससे मानने से बीजेपी मे साफ इनकार कर दिया। ऐसे में मुख्यमंत्री पद की चाहत शिवसेना अपने विरोधियों की तरफ देख रही है।

 

एनडीए से भी अलग होगी शिवसेना
चर्चा यह भी है कि शिवसेना एनडीए से भी अलग हो सकती है। सोमवार को केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री और शिवसेना नेता अरविंद सांवत ने ऐलान किया कि मैं अपने मंत्री पद से इस्तीफा दे रहा हूं। 

 

राकांपा ने कहा- एनडीए से नाता तोड़े शिवसेना
इस बीच रविवार को राकांपा नेता नवाब मालिक ने शिवसेना के सामने समर्थन देने के बदले एनडीए से नाता तोड़ने की शर्त रख दी है। मलिक ने कहा, 'हमने 12 नवंबर को अपने विधायकों की बैठक बुलाई है। यदि शिवसेना हमारा समर्थन चाहती है, तो उन्हें यह घोषणा करनी होगी कि उनका भाजपा के साथ कोई संबंध नहीं है और उन्हें राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से बाहर होना होगा। उनके सभी मंत्रियों को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देना होगा।' मलिक ने कहा, 'अभी हमें शिवसेना से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है।'

 

शिवसेना कर रही अनादर
रविवार को भाजपा नेता देवेन्द्र फडणवीस, महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल और अन्य नेताओं ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। पाटिल ने कहा, 'हम राज्य में सरकार नहीं बनाएंगे।' उन्होंने कहा, 'जनादेश हमें (भाजपा-शिवसेना) को एक साथ काम करने के लिए दिया गया था अगर शिवसेना इसका अनादर करना चाहती है और कांग्रेस-राकांपा के साथ सरकार बनाना चाहती है तो हमारी शुभकामनाएं उनके साथ हैं।'बीजेपी नेता देवेन्द्र फडणवीस ने शुक्रवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलकर अपना इस्तीफा सौंप दिया था। इस्तीफा सौंपने के बाद फडणवीस ने दावा किया था कि शिवसेना को कभी भी ढाई साल के लिए सीएम पद देने का वादा नहीं किया गया। वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरने ने फडणवीस के बयान को झूठा बताया था। ठाकरे ने कहा था, सबको पता है झूठ कौन बोल रहा है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना