विधानसभा चुनाव / अंतिम दिन चुनावी मैदान से हटे 1504 उम्मीदवार, महाराष्ट्र में अब 3239 प्रत्याशी मैदान में



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • इससे पहले प्रदेश में साल 2014 के विधानसभा चुनाव में 4119 उम्मीदवार उतरे थे
  • विधानसभा चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे जबकि चुनाव परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे

Dainik Bhaskar

Oct 08, 2019, 06:48 PM IST

मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अब कुल 3239 उम्मीदवार मैदान में हैं। सोमवार को नामांकन वापसी के आखिरी दिन 4743 उम्मीदवारों में से 1504 उम्मीदवारों ने मैदान छोड़ दिया। मंत्रालय में प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी दिलीप शिंदे ने यह जानकारी दी। विधानसभा चुनाव के लिए कुल 5543 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया था।

 

800 उम्मीदवारों का नाम अवैध घोषित

नामांकन पत्रों की छानबीन के बाद 800 उम्मीदवारों का नामांकन अवैध पाया गया था जबकि 4743 उम्मीदवारों के नामांकन वैध पाए गए थे। इनमें से 1504 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। जिसके बाद अब 3239 उम्मीदवार चुनाव मैदान में बचे हैं। विधानसभा चुनाव में रत्नागिरी की चिपलूण सीट पर सबसे कम 3 और नांदेड़ दक्षिण सीट पर सबसे अधिक 38 उम्मीदवार चुनाव में हैं।

 

शिंदे ने बताया कि जिन सीटों पर 15 से अधिक उम्मीदवार हैं वहां पर मतदान के लिए दो ईवीएम मशीनों की जरूरत पड़ेगी। विधानसभा चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे जबकि चुनाव परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे। इससे पहले प्रदेश में साल 2014 के विधानसभा चुनाव में 4119 उम्मीदवार उतरे थे।

 

सबसे कम उम्मीदवार वाली सीटें 

प्रदेश में रत्नागिरी की चिपलूण सीट पर सबसे कम 3 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि नंदूरबार की शहादा में 4, अहमदनगर की अकोले सीट पर 4, मुंबई की माहिम सीट पर 4, बोरिवली में 4 और बांद्रा पश्चिम सीट पर 4 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। 

 

सबसे अधिक उम्मीदवार वाली सीटें 

राज्य में नांदेड़ दक्षिण सीट पर सबसे अधिक 38 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि औरंगाबाद पूर्व पर 34 और जालना सीट पर 32 उम्मीदवार उम्मीदवार उतरे हैं। 

भोकर में 135 ने पर्चा भरा था अब बचे केवल 7 

नांदेड़ की भोकर सीट पर 135 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया था पर आश्चर्यजनक रूप से अब यहां सिर्फ 7 उम्मीदवार ही चुनाव मैदान में बचे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण इस सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। इसलिए इस सीट पर पूरे प्रदेश की निगाहें हैं। यहां नामांकन पत्रों की छानबीन में 44 उम्मीदवारों के नामांकन रद्द हो गए थे। जिसके बाद इस सीट पर 91 प्रत्याशी बचे थे लेकिन सोमवार को नामांकन वापसी के अंतिम दिन 91 में से 84 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। अब भोकर सीट पर केवल 7 उम्मीदवार मैदान में हैं। 

जिलेवार सीट और उम्मीदवार

  • नंदूरबार की 4 सीटों पर 26 उम्मीदवार 
  • धुलिया की 5 सीटों पर 38 उम्मीदवार
  • जलगांव की 11 सीटों पर 100 उम्मीदवार 
  • बुलढाणा की 7 सीटों पर 59 उम्मीदवार
  • अकोला की 5 सीटों पर 68 उम्मीदवार 
  • वाशिम की 3 सीटों पर 44 उम्मीदवार 
  • अमरावती की 8 सीटों पर 109 उम्मीदवार 
  • वर्धा की 4 सीटों पर 47 उम्मीदवार 
  • नागपुर की 12 सीटों पर 146 उम्मीदवार, 
  • भंडारा की 3 सीट पर 42 उम्मीदवार, 
  • गोदिया की 4 सीटों पर 47 उम्मीदवार 
  • गडचिरोली की 4 सीटों पर 38 उम्मीदवार
  • चंद्रपुर की 6 सीटों पर 71 उम्मीदवार 
  • यवतमाल की 7 सीटों पर 88 उम्मीदवार 
  • नांदेड़ की 9 सीटों पर 135 उम्मीदवार 
  • हिंगोली की 3 सीटों पर 33 उम्मीदवार 
  • परभणी की 4 सीटों पर 53 उम्मीदवार
  • जालना की 5 सीटों पर 79 उम्मीदवार 
  • औरंबागाद की 9 सीटों पर 128 उम्मीदवार 
  • नाशिक की 15 सीटों पर 148 उम्मीदवार 
  • पालघर की 6 सीटों पर 53 उम्मीदवार 
  • ठाणे की 18 सीटों पर 214 उम्मीदवार
  • मुंबई उपनगर की 26 सीटों पर 244 उम्मीदवार
  • मुंबई शहर की 10 सीटों पर 89 उम्मीदवार 
  • रायगड की 7 सीटों पर 78 उम्मीदवार 
  • पुणे की 21 सीटों पर 246 उम्मीदवार
  • अहमदनगर की 12 सीटों पर 116 उम्मीदवार 
  • बीड़ की 6 सीटों पर 155 उम्मीदवार 
  • लातूर की 6 सीटों पर 79 उम्मीदवार 
  • उस्मानाबाद की 4 सीटों पर 50 उम्मीदवार 
  • सोलापुर की 12 सीटों पर 154 उम्मीदवार
  • सातारा की 8 सीटों पर 73 उम्मीदवार 
  • रत्नागिरी की 5 सीटों पर 32 उम्मीदवार 
  • सिंधुदुर्ग की 3 सीटों पर 23 उम्मीदवार 
  • कोल्हापुर की 10 सीटों पर 106 उम्मीदवार 
  • सांगली की 8 सीटों पर 68 उम्मीदवार 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना