औरंगाबाद में जयश्री राम का नारा न लगाने पर युवक की 10 लोगों ने की पिटाई, केस दर्ज

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित इमरान (बीच में) एक होटल में वेटर का काम करते हैं। - Dainik Bhaskar
पीड़ित इमरान (बीच में) एक होटल में वेटर का काम करते हैं।
  • इमरान का कहना है कि उसे तकरीबन 10 लोग मिलकर मार रहे थे
  • इमरान के मुताबिक, उसकी जान बचाने वाले भी हिन्दू थे

औरंगाबाद. यूपी, बिहार और दिल्ली के बाद महाराष्ट्र के औरंगाबाद में मुस्लिम युवक के साथ \'जयश्री राम\' नहीं बोलने पर भीड़ द्वारा मारपीट करने का मामला सामने आया है। 

 

जानकारी के मुताबिक, इमरान इस्माइल पटेल गुरुवार देर रात औरंगाबाद के मदीना होटल से काम करके अपने घर वापस जा रहे थे। वे जैसे ही मुज्जफर नगर इलाके में पहुंचे कुछ लोगों ने उन्हें रोका और उन्हें \'जयश्री राम\' का नारा लगाने के लिए कहा। आरोप है कि विरोध करने पर उन्हें घेर कर पीटा गया। 

 

हिन्दुओं ने बचाई इमरान की जान 
इमरान पटेल का कहना है कि उसे पत्थर से मारने की भी कोशिश की गई, लेकिन शोर मचाने पर आस-पड़ोस के लोग आवाज सुने वहां पहुंचे और उसकी जान बच गई। इमरान का कहना है कि उसे तकरीबन 10 लोग मिलकर मार रहे थे। इमरान के मुताबिक, उसे बचाने वाले भी हिन्दू लोग थे।

 

सभी आरोपी फरार

क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर मधुकर सावंत के मुताबिक, इमरान की शिकायत पर औरंगाबाद के बेगमपुरा पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल सभी आरोपी गिरफ्त से बाहर है। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की सहायता से उनकी तलाश की जा रही है।

 

एक समुदाय के लोगों ने किया हंगामा

घटना की जानकारी मिलते ही एक समुदाय के लोग बेगमपुरा पुलिस थाने में जमा होने लगे और जमकर हंगामा किया। एआईएमआईएम के लीगल एडवाइजर से.ज पटेल ने बताया कि फिलहाल बेगमपुरा पुलिस थाने में 10 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। शहर के लोगों से अपील है कि वह शांत बरकरार रखें।

खबरें और भी हैं...