मुंबई

--Advertisement--

बेटी की चाहत में मां ने 10 माह के बेटे को ड्रम में डुबोकर मार डाला, उसी में छुपा दी बॉडी

महाराष्ट्र के औरंगाबाद की घटना।

Danik Bhaskar

Jun 26, 2018, 07:40 PM IST
आरोपी मांं को पुलिस ने अरेस्ट आरोपी मांं को पुलिस ने अरेस्ट

औरंगाबाद: महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक मां ने अपने बेटे को इसलिए मार दिया क्योंकि उसे बेटी की चाहत थी। आरोपी महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मां ने बच्चे को मारने के बाद उसके शव को घर के आंगन में स्थित प्लास्टिक के ड्रम में छिपा दिया था। फिलहाल महिला को कोर्ट ने दो दिन की पुलिस हिरासत में भेजने का आदेश सुनाया है।

बच्चा गायब होने का किया था नाटक

- जिले की बिड़किन पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर पंडित सोनावणे ने बताया, गंगापुर तहसील के पिंपरखेड़ा में वेदिका रामेश्वर एरंडे (22) नाम की महिला पति के साथ रहती है। शनिवार को वह अपने माता-पिता से मिलने मायके पैठण खेड़ा गांव आई थी। शनिवार शाम को वेदिका अपने 10 महीने के बच्चे प्रेम के साथ घर में सोई थी। इस बीच आधी रात को जब वेदिका की नींद खुली तब बच्चा पास में नहीं था। इसके बाद उसने माता-पिता को इसकी जानकारी दी और बच्चे की तलाश शुरू की।

डॉग स्कॉड की सहायता से मिली बॉडी


- इंस्पेक्टर पंडित सोनावणे ने बताया, काफी तलाश के बाद भी जब बच्चा नहीं मिला तो उन्होंने बिडकिन पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई। इसके बाद डॉग स्कॉड को बुलाकर बच्चे को तलाशने का काम शुरू किया गया। डॉग स्कॉड का कुत्ता घर में ही चक्कर लगाने लगा। कुत्ते को घर में चक्कर लगाते देख डॉग स्कॉड ने घर के परिसर में रखे प्लास्टिक के ड्रम का ढक्कन हटाया। ड्रम के पानी में बच्चे का शव पड़ा था। पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए बिडकिन के सरकारी अस्पताल भेजा।

बेटे को नहीं पसंद करती थी महिला


- मामले की जांच के लिए राधिका को पुलिस ने हिरासत में लिया। राधिका ने बताया, वो पहले से ही इस बच्चे को पसंद नहीं करती थी। उसे लड़के की जगह लड़की की चाहत थी, इसलिए उसने बेटे को मार डाला। राधिका के खिलाफ हत्या (302) का मामला दर्ज कर उसे अरेस्ट कर लिया गया है। सोमवार को राधिका को कोर्ट में पेश किया गया, जिसके बाद उसे 2 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा दिया गया।

Click to listen..