गलियों में क्रिकेट खेलने वाले गरीब बच्चों के लिए इंग्लैंड में होगा वर्ल्ड कप; लड़के-लड़कियां एक ही टीम से खेलेंगे, सौरव गांगुली हैं ब्रांड एंबेसडर

मुंबई न्यूज:एक मैच 20 बॉल का होगा, इसमें 7 देशों की 8 टीमें, फाइनल लॉर्ड्स में

विनोद यादव

Apr 15, 2019, 04:30 PM IST
Mumbai Cricket News in Hindi: story of Street Child Cricket World Cup

मुंबई। झुग्गी-बस्तियों में रहने वाले बच्चे अभी तक गलियों में ही क्रिकेट खेला करते थे। अब उनके लिए भी वर्ल्ड कप शुरू हो रहा है। यह स्ट्रीट चाइल्ड क्रिकेट वर्ल्ड कप 30 अप्रैल से 8 मई तक इंग्लैंड में खेला जाएगा। इसमें 7 देशों की 8 टीमें हिस्सा ले रही हैं। भारत की दो टीमें इंडिया नॉर्थ और इंडिया साउथ उतरेंगी। फाइनल लॉर्ड्स में खेला जाएगा। यह मिक्स्ड जेंडर टूर्नामेंट है। लड़के-लड़कियां एक टीम से खेलेंगे। एक टीम में 8 खिलाड़ी होंगे। इसमें 4 लड़के और 4 लड़कियां रहेंगी। इंडिया साउथ की टीम में मुंबई और चेन्नई के स्लम में रहने वाले खिलाड़ी हैं।

मुंबई के मानखुर्द स्लम में रहने वाली शमा और भवानी कहती हैं, 'यह पहली बार है, जब हम लड़कों के साथ खेलेंगे। मैं अपना अनुभव दूसरी लड़कियों से साझा करूंगी। अभी भी कई पेरेंट्स लड़कियों को घर से बाहर नहीं जाने देते। मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे इंग्लैंड जाकर खेलने का मौका मिल रहा है। अब जब हम लंदन जा रहे हैं तो उम्मीद है कि लड़के भी लड़कियों के साथ खेलना चाहेंगे। लड़के अपनी बहनों को खेलने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।' इसी स्लम के मणिरत्नम और इरफान साथी खिलाड़ियों को प्रैक्टिस में मदद करते हैं।

भारत की दो टीमें इंडिया नॉर्थ और इंडिया साउथ हिस्सा ले रही हैं

वहीं, चेन्नई से नागलक्ष्मी, मोनिशा, पॉलराज और सूर्यप्रकाश इंडिया साउथ टीम में हैं। नागलक्ष्मी को क्रिकेट इतना पसंद है कि वे नारियल के पेड़ की डाली का प्रयोग बैट के रूप में करती हैं। वे कहती हैं कि यह परफेक्ट नहीं है। लेकिन गली क्रिकेट के लिए ठीक है। वहीं, पॉलराज धोनी का बहुत बड़ा फैन है। वह उनके जैसे हेलीकॉप्टर शॉट लगाता है। इंडिया नॉर्थ टीम में दिल्ली और कोलकाता के स्ट्रीट चिल्ड्रन हैं।

स्ट्रीट चाइल्ड यूनाइटेड वर्ल्ड कप करा रहा है, टेनिस बाॅल से 20 गेंद का मैच

झुग्गियों और सड़क पर रहने वाले बच्चों के लिए काम करने वाली संस्था स्ट्रीट चाइल्ड यूनाइटेड इस वर्ल्ड कप का आयोजन करा रही है। इस संस्था से जुड़े एनजीओ ने अपने-अपने एरिया में सिलेक्शन ट्रायल किया। ये ट्रायल 6 महीने से चल रहे थे। इसके बाद टीम चुनी गईं। एक मैच 20 गेंद का होगा। मैच टेनिस बॉल से खेले जाएंगे। फाइनल 8 मई को लॉर्ड्स पर खेला जाएगा। इन बच्चों को आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स से सीखने का मौका मिला है। सौरव गांगुली दोनों टीमों के ब्रांड एंबेसडर हैं।

X
Mumbai Cricket News in Hindi: story of Street Child Cricket World Cup
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना