पुणे / समाजसेवी प्रेम दरयानानी ने आर्मी लॉ कॉलेज के लिए दान की 6 एकड़ जमीन



प्रेम दरयानानी-फाइल प्रेम दरयानानी-फाइल
Philanthropist donates six acres in Kanhe to Army Law College
X
प्रेम दरयानानी-फाइलप्रेम दरयानानी-फाइल
Philanthropist donates six acres in Kanhe to Army Law College

  • यह जमीन पुणे-मुंबई हाईवे पर स्थित है
  • इस लॉ कॉलेज का निर्माण साल 2017 से किया जा रहा है

Dainik Bhaskar

Sep 09, 2019, 04:13 PM IST

पुणे. सोमवार को राधा कल्यानदास दरयानी चैरिटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी प्रेम दरयानानी ने पुणे से करीब 45 किमी दूर कन्हे में आर्मी लॉ कॉलेज(एएलसी) के लिए 6 एकड़ जमीन दान में दी है। यह जमीन पुणे-मुंबई हाईवे पर स्थित है। इसमें से 4 एकड़ वे सेना को साल 2018 में और 2 एकड़ अब दान की है। वर्तमान समय में दान की गई जमीन की कीमत 25 करोड़ रुपए है और कुल जमीन की कीमत 40 करोड़ के आसपास बताई जा रही है।

 

इस लॉ कॉलेज का निर्माण साल 2017 से किया जा रहा है। इस इमारत पर ट्रस्ट द्वारा 12 इमारतों का निर्माण करवाया गया है इसे भी दान में दिया गया है।

 

बता दें कि फिर दक्षिणी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डी आर सोनी ने 16 जुलाई, 2018 को एएलसी के पहले चरण का उद्घाटन किया था। दूसरे चरण का शुभारंभ आज से हुआ है। लॉ कालेज के दूसरे चरण के भूमिपूजन का कार्यक्रम दक्षिणी कमान के कमांडर इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल एस के सैनी के हाथों संपन्र हुआ। बता दें कि सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय से संबद्ध आर्मी लॉ कॉलेज में पांच वर्षीय एकीकृत बीबीए एलएलबी की पढ़ाई होती है। 

 

कौन हैं प्रेम दरयानानी

दक्षिण मुंबई के वालकेश्वर के रहने वाले प्रेम दरयानानी (71), ने मुंबई के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज से स्नातक की उपाधि हासिल की है। साथी ही वे सामाजिक विज्ञान में पीएचडी भी हैं। वे दो दशकों से रियल एस्टेट कारोबार में हैं। वह सेना के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए पहले भी ऐसे ही दान कर चुके हैं। 

 

पहले भी सेना को दे चुके हैं दान 

1999 में कारगिल संघर्ष के बाद, उन्होंने खड़की में सेना के रिहैबिलिटेशन सेंटर में विवाहित अधिकारियों और कर्मियों के लिए छह क्वार्टरों का निर्माण किया था। उन्होंने 1990 में घोरपड़ी में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक परियोजना के लिए 1 लाख रुपये से अधिक का दान दिया था। 2014 में, उन्होंने एक सैनिक के परिजनों को 40,000 रुपये का दान दिया, जो 1988 में गश्त के दौरान सियाचिन में मारा गया था। इससे पहले मार्च-2018 में उन्होंने कॉलेज के लिए 40 करोड़ की संपत्ति दान में दी थी।

 

राधा कलिनदास दरयानानी ट्रस्ट के प्रमुख प्रेम दरयानानी ने कहा,"इस दान का मुख्य मकसद देश के बाहरी और आंतरिक दुशमनों से निपटने के लिए अपनी जान की बाजी लगा देने वाली भारतीय सेना के प्रति कृतग्यता दिखाना है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना