Hindi News »Maharashtra »Mumbai» Fake Photo Of Pranab In RSS Style Salute Goes Viral

'जिसका डर था वही हुआ', संघ स्टाइल में प्रणब की FAKE फोटो हुुई वायरल

गुरुवार को RSS के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की एक फेक फोटो वायरल हो रही है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 08, 2018, 11:51 AM IST

'जिसका डर था वही हुआ', संघ स्टाइल में प्रणब की FAKE फोटो हुुई वायरल

नागपुर.गुरुवार को RSS के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की एक फेक फोटो वायरल हो रही है। इसमें वे आरएसएस कार्यकर्ताओं की स्टाइल में ध्वज को प्रणाम करते नजर आ रहे हैं। बता दें कि पिता के इस कार्यक्रम में शामिल होने से पहले ही बेटी व कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने उन्हें नसीहत दी थी कि आपकी बातें भुला दी जाएंगी, रह जाएंगी तो केवल फोटो। वायरल हो रही फोटो में क्या ?

- तस्वीर में प्रणब मुखर्जी संघचालक मोहन भागवत के बगल में ध्वज को प्रणाम करते नजर आ रहे हैं। उनके सिर पर आरएसएस वाली टोपी भी नजर आ रही है। हरियाणा कांग्रेस आईटी सेल की स्टेट इंचार्ज रुचि शर्मा ने 7 जून को नागपुर में हुए इस कार्यक्रम की दो तस्वीरें शेयर की हैं। जिसमें से एक में संघ नेताओं के साथ प्रणब दा संघ की टोपी और ध्वज प्रणाम करते नजर आ रहे हैं।

- रुचि ने इस तस्वीर को फर्जी करार दिया। उन्होंने आरोप लगाता हुए लिखा कि ये कलाकारी भाजपा के आईटी सेल की है।

बेटी का ट्वीट- इसी बात का डर था

- फेक फोटो सामने आने के बाद शर्मिष्ठा मुखर्जी ने ट्विटर पर लिखा - जिस बात का डर था, वही हुआ। मैंने पिता को इस बारे में चेताया भी था। संघ के कार्यक्रम के कुछ देर बाद ही भाजपा और संघ द्वारा डर्टी ट्रिक्स का उपयोग किया जा रहा है।

- इससे पहले 6 जून को उन्होंने ट्विटर पर पिता को नसीहत देते हुए कहा था कि आरएसएस भी नहीं मानता है कि आप भाषण में उसकी सोच का बखान करेंगे, लेकिन बातें भुला दी जाएंगी। रहेंगे तो सिर्फ फोटो, जो फर्जी बयानों के साथ प्रसारित किए जाएंगे। नागपुर जाकर आप भाजपा-आरएसएस को फर्जी खबरें प्लांट करने, अफवाहें फैलाने का पूरा मौका दे रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×