2019 लोकसभा चुनाव नतीजों को लेकर असमंजस में हैं मोहन भागवत

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • भैयाजी जोशी ने कहा आरएसएस अपने रवैये पर अडिग है कि अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए कानून पारित किया जाए
  • पीएम मोदी के इंटरव्यू के तुरंत बाद आरएसएस के ट्विटर हैंडल से उनके इंटरव्यू का समर्थन किया गया 

नागपुर. राम मंदिर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिलहाल अध्यादेश न लाने के बयान के बाद से आरएसएस उनसे नाराज चल रहा है। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बुधवार को नागपुर में कहा कि आगामी 2019 लोकसभा चुनाव के परिणामों को लेकर निश्चित नहीं हैं।  

 

अपने निर्णय को लेकर अडिग है: भगवत

नागपुर के सेवादान स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मोहन भगवत ने कहा कि वह आरएसएस महासचिव भैयाजी जोशी के बयान का समर्थन करते हैं जो प्रधानमंत्री के इंटरव्यू के बाद आया था। उन्होंने कहा, \"प्रधानमंत्री चाहे जो भी कहें, मेरा इस मुद्दे पर स्टैंड बिल्कुल स्पष्ट है। हमारी भगवान राम में आस्था है और अयोध्या में राम मंदिर ही बनना चाहिए ऐसा मजबूत विश्वास है।\" 

 

राम मंदिर से जुड़े एक सवाल के जवाब में भागवत ने कहा, ‘‘अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर बनेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारी भगवान राम में आस्था है। वह समय बदलने में समय नहीं लेते।’’ 

 

 

खबरें और भी हैं...