पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Mumbai
  • Gandhi SPG Security | Saamana: Shiv Sena Mouthpiece Saamana Slams BJP Over Rahul Gandhi, Sonia Gandhi, Priyanka Gandhi SPG Protection Security, Shiv Sena Saamana Latest News

गांधी परिवार की एसपीजी हटाने पर सामना ने लिखा- 'किसी की जान से मत खेलो, सुरक्षा व्यवस्था का मजाक मत बनाओ'

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कल तक एनडीए हिस्सा रही शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र 'सामना' में 'सुरक्षा व्यवस्था की राजनीति, खतरे की घंटी!' नाम से लिखी संपादकीय में जमकर निशाना साधा
  • शिवसेना ने लिखा- इंदिरा गांधी जब प्रधानमंत्री थीं, उस समय उनके सुरक्षा रक्षकों ने उनकी हत्या कर दी

मुंबई. गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाने के मुद्दे को लेकर विपक्ष मोदी सरकार के खिलाफ हमलावर है। इस बीच कल तक एनडीए हिस्सा रही शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र 'सामना' में 'सुरक्षा व्यवस्था की राजनीति, खतरे की घंटी!' नाम से लिखी संपादकीय में जमकर निशाना साधा है। सामना में लिखा है कि गृह मंत्रालय ने यह फैसला लिया है कि गांधी परिवार को अब कम खतरा है। गृह मंत्रालय को ऐसा लग रहा है- मतलब किसे ऐसा लग रहा है? ये असली सवाल है। इंदिरा गांधी जब प्रधानमंत्री थीं, उस समय उनके सुरक्षा रक्षकों ने उनकी हत्या कर दी। संपादकीय में सवाल उठाते हुए लिखा- 'किसी की जान से मत खेलो और और सुरक्षा व्यवस्था का मजाक मत बनाओ।' 


सामना ने सुरक्षा पर उदाहरण भी दिए गए। कहा- खालिस्तानी आतंकवादी स्वर्ण मंदिर में घुस गए थे और स्वघोषित संत भिंडरावाले ने स्वर्ण मंदिर से देश के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया था। भिंडरावाले को पाकिस्तान और चीन का खुला समर्थन प्राप्त था। इंदिरा गांधी ने स्वर्ण मंदिर में फौज भेजकर भिंडरावाले का खात्मा किया था। उसके बदले के रूप में इंदिरा गांधी की हत्या कर दी गई थी। 

केंद्र सरकार पर तंज भी कसा गया। लिखा- गृह मंत्रालय को तो ये भी लग रहा था कि महाराष्ट्र में फडणवीस के पास स्पष्ट बहुमत है इसलिए अलसुबह राष्ट्रपति शासन हटाकर प्रहरियों की आंखें खुलने के पहले ही भाजपा के मुख्यमंत्री को शपथ दिलाई गई। लेकिन, सच अलग था और अगले ही कुछ घंटों में उन्हें इस्तीफा देना पड़ा। 

संपादकीय में यह भी लिखा गया है ..

  • राजीव गांधी को तमिल आतंकियों ने मारा। तमिलनाडु की एक प्रचार सभा में इस उम्दा नेता की निर्मम हत्या कर दी गई। सरकार किसी प्रकार की जानकारी के बिना ऐसे कदम नहीं उठाती है।
  • पिछले 5 वर्षों में नेहरू खानदान से यह बैर कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है। गांधी’ परिवार की जगह कोई और होता तो भी हम इससे कुछ अलग नहीं कहते। इंदिरा गांधी शहीद हैं, उसी प्रकार राजीव गांधी ने भी बलिदान दिया है। राजीव ने जब श्रीलंका से शांति समझौता किया, उसी समय उनकी जान को खतरा होने की संभावना शिवतीर्थ की एक सभा में शिवसेना प्रमुख ने जताई थी।
  • 5 सालों में सत्ताधारी दल के प्रमुख नेताओं को उच्च श्रेणी की सुरक्षा व्यवस्था दी गई। विरोधियों की सुरक्षा हटा ली जाती है। जब कोई उत्तर प्रदेश का चुनाव प्रभारी बन जाता है तो उसे सुरक्षा दी जाती है। जब कोई महाराष्ट्र का प्रभारी बनता है तो उसे ‘जेड प्लस’ आदि सीआरपीएफ की विशेष सुरक्षा मुहैया कराई जाती है। ये सत्ता का दुरुपयोग है।
  • महाराष्ट्र में 5 सालों में ऐसे कई लोगों को सुरक्षा देकर सरकारी तिजोरी पर भार बढ़ाया गया है। इसके लिए नियमों को तोड़कर पुलिस अधिकारियों ने राजनीतिक सेवा की है। दिल्ली हो या महाराष्ट्र, माहौल निर्भय होना चाहिए। वैसी स्थिति और माहौल बन गया होगा तो गांधी परिवार की सुरक्षा हटाने में कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, मंत्री और अन्य सत्ताधारी नेता सुरक्षा का ‘पिंजरा’ छोड़ने को तैयार नहीं हैं।
  • बुलेट प्रूफ गाड़ियों का महत्व कम नहीं हुआ है। गांधी परिवार के सुरक्षा काफिले में पुरानी गाड़ियां भेजने की खबर भी चिंताजनक है। खतरे की घंटी बज रही होगी तो प्रधानमंत्री मोदी को इस पर ध्यान देना चाहिए।
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिवार में प्रॉपर्टी या किसी अन्य मुद्दे को लेकर जो गलतफहमियां चल रही थी आज वह किसी की मध्यस्थता से दूर होंगी। जिसकी वजह से परिवार का माहौल शांतिपूर्ण हो जाएगा। घर में नवीनीकरण या परिवर्तन सं...

और पढ़ें