--Advertisement--

यमन के पास उठा समुद्री चक्रवात मेकुनु, गुजरात का 1 जहाज समुद्र में डूबा; 4 लोग लापता

यमन के पास समुद्र में उठे चक्रवात मेकुनु का असर अगले कुछ दिनों में भारत के पश्चिमी इलाकों में दिखेगा।

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 08:08 AM IST
मेकुनु के खतरे को भांप पोरबंदर में 1200 की जगह में 5000 बोट ने डाला लंगर। मेकुनु के खतरे को भांप पोरबंदर में 1200 की जगह में 5000 बोट ने डाला लंगर।

मुंबई/सलाया. यमन के पास समुद्र में उठे मेकुनु चक्रवात में फंस कर सलाया-गुजरात का एक जहाज डूब गया। शारजहां से यमन जा रहे 450 टन की क्षमता वाले इस जहाज पर नौ नाविक सवार थे। इनमें से पांच को बचा लिया गया, जबकि चार लापता हैं। इनकी तलाश जारी है। आता-ए-ख्वाजा नामक ये जहाज-सलाया गुजरात का था। यमन के सिकोतेर बंदरगाह पर जा रहा था। शारजहां से जनरल कार्गो के साथ पांच मई 2018 को यमन के लिए रवाना हुआ था। 23 मई की रात बारिश-चक्रवात की चपेट में आकर माल-सामान सहित समुद्र में डूब गया। मेकुनु का असर अगले कुछ दिनों में भारत के पश्चिमी इलाकों में दिखेगा। भारतीय मौसम विभाग ने मछुआरों को समुद्र से दूर रहने की सलाह दी है।

शारजहां से यमन के लिए रवाना हुआ था जहाज

- आता-ए-ख्वाजा नाम का ये जहाज-सलाया गुजरात का था। यमन के सिकोतेर बंदरगाह पर जा रहा था। शारजहां से जनरल कार्गो के साथ 5 मई 2018 को यमन के लिए रवाना हुआ था। 23 मई की रात बारिश-चक्रवात की चपेट में आकर माल समेत समुद्र में डूब गया।

पोरबंदर पर क्रेन से की बोट की पार्किंग

- पोरबंदर के फिशरीज हार्बर पर इन दिनों 1200 की क्षमता के मुकाबले 5000 बोट को पार्क करवाना पड़ा है। पार्किंग क्षेत्र का दायरा 3 किमी तक है। मेकुनु चक्रवात की चेतावनी के कारण यह नौबत पैदा हुई है। इसके चलते संवेदनशील श्रेणी के इस क्षेत्र में बोट को पार्क करवाया गया है।

- पोरबंदर बंदरगाह हर समय व्यस्त रहता है। समुद्र से किनारे आईं बोट को क्रेन की मदद लेकर पार्क करवाया गया है।

मुंबई सहित महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में होगी भारी बारिश

- मौसम विभाग के मुताबिक मेकुनु के कारण मुंबई सहित महाराष्ट्र के तटीय इलाकों खासतौर पर कोंकण क्षेत्र में तेज बारिश होने की संभावना है। हालांकि, यह चक्रवात भारतीय समुद्र से दूर चला गया है। इससे कुछ क्षेत्राें में तापमान में कमी आई है। हालांकि, विदर्भ और उत्तरी मध्य प्रदेश में तेज गर्मी पड़ रही है।


यमन के सोकोत्रा में भारी बारिश, 17 लापता
- चक्रवात मेकुनु के कारण यमन के आईलैंड सोकोत्रा में गुरुवार को भारी बारिश हुई है, जिससे कई इलाकों में बाढ़ आ गई है और इससे बड़ा नुकसान हुआ है। 17 लोग लापता बताए गए हैं। चक्रवाती तूफान के साथ 110 से 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं।

- इसके प्रभाव से समुद्र में 8 से 10 मीटर ऊंची लहरें उठ रही हैं। 150 परिवारों को उनके घरों से निकालकर सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाया गया है। ओमान में शुक्रवार को तूफान का असर होगा। यहां राहत और बचाव अभियान की तैयारी शुरू कर दी गई है।