• Hindi News
  • Maharashtra
  • Mumbai
  • Uddhav Thackeray NPR | Uddhav Thackeray Cabinet Approvers NPR; Sharad Pawar NCP Congress On Maharashtra Chief Minister Over National Population Register

महाराष्ट्र / राज्य में एक मई से लागू हो सकता है एनपीआर, जनगणना अधिकारी ने 20 डीएम के साथ क्रियान्वयन को लेकर की बैठक

सीएम उद्धव ठाकरे द्वारा राज्य में एनपीआर लागू करने की सहमति देने की चर्चा है। सीएम उद्धव ठाकरे द्वारा राज्य में एनपीआर लागू करने की सहमति देने की चर्चा है।
X
सीएम उद्धव ठाकरे द्वारा राज्य में एनपीआर लागू करने की सहमति देने की चर्चा है।सीएम उद्धव ठाकरे द्वारा राज्य में एनपीआर लागू करने की सहमति देने की चर्चा है।

  • अधिकारियों ने बताया कि 1 मई से 15 जून तक राज्य के लोगों से एनपीआर संबंधी जानकारी एकत्र की जाएगी
  • सूत्रों के मुताबिक, राज्य सरकार एनपीआर के संबंध में जल्द ही एक नोटिफिकेशन जारी कर सकती है

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2020, 02:57 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने राज्य में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) लागू करने को मंजूरी देने की चर्चा है। इसके तहत एक मई से राज्य में रह रहे लोगों की गणना की जाएगी। केंन्द्रीय गृह मंत्रालय ने 1 मई से लेकर 15 जून तक एनपीआर लागू करने की अधिसूचना जारी की हुई है। हालांकि, राज्य सरकार की तरफ से एनपीआर लागू करने संबंधी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

रजिस्ट्रार जनरल एंड सेंसस डायरेक्टर रश्मि जगड़े ने महाराष्ट्र सरकार के 20 जिलाधिकारियों और 15 नगर निगम प्रमुख  से एनपीआर और जनगणना को लेकर चर्चा की है। इससे माना जा रहा है कि सरकार की तरफ से इसे लागू करने पर सहमति बन गई है। इसमें एनपीआर के क्रियान्वयन को लेकर रणनीति बनाई गई है। माना जा रहा है कि यह चर्चा सीएम उद्धव ठाकरे से मिली मंजूरी के बाद ही हुई है। सूत्रों के मुताबिक, राज्य सरकार जल्द ही इस संबंध में एक नोटिफिकेशन जारी कर सकती है। महाराष्ट्र में एनपीआर प्रक्रिया के करीब 6 हफ्ते में पूरा होने की उम्मीद की जा रही है।

15 जून तक पूरी होनी है यह प्रक्रिया
सूत्रों ने बताया कि सरकारी कर्मचारी 1 मई से लेकर 15 जून के बीच एनपीआर की जानकारी एकत्र करेंगे। जबकि अगले साल 9 फरवरी से 28 फरवरी के बीच जनगणना की जाएगी। बताया जा रहा है कि इस काम के लिए महाराष्ट्र सरकार ने 3.34 लाख कर्मचारी नियुक्त किए हैं। इसके लिए सभी जिले के जिलाधिकारियों को अध्यापकों और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को जनगणना संबंधी ट्रेनिंग भी दी जाएगी। 

कांग्रेस-राकांपा करती रही हैं इसका विरोध
नागरिकता कानून और एनआरपी को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस पार्टी शुरू से विरोध कर रही है। ऐसे में सीएम उद्धव ठाकरे द्वारा इसे लागू करने को लेकर हरी झंडी दिए जाने के बाद माना जा रहा है कि शिवसेना और कांग्रेस-राकांपा में फिर एक बार मनमुटाव हो सकता है। इससे पहले भीमा कोरेगांव की जांच एनआईए को सौंपे जाने पर राकांपा प्रमुख शरद पवार उद्धव ठाकरे पर नाराजगी जता चुके हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना