सीएए का विरोध / महाराष्ट्र सरकार में मंत्री जितेंद्र आव्हाड बोले- जब तेरा बाप अंग्रेजों के तलवे चाट रहा था, तब मेरा बाप फांसी चढ़ रहा था

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री जितेंद्र आव्हाद- फाइल
X

  • शुक्रवार को ठाणे में एक रैली काे संबोधित करने के दौरान जितेंद्र आव्हाड ने दिया विवादास्पद बयान 
  • महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण भी सीएए लागू नहीं करने की बात कह चुके हैं

दैनिक भास्कर

Jan 20, 2020, 03:43 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और राकांपा नेता जितेंद्र आव्हाण ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी को लेकर विवादास्पद बयान दिया है। शनिवार को ठाणे में एक रैली काे संबोधित करते हुए आव्हाण ने कहा, 'मैं दिल्‍ली के तख्‍त से पूछता हूं, अब तू मांगेगा मुझसे सबूत मेरे देशवासी होने का? तो सुन, जब तेरा बाप सर झुकाकर अंग्रेजों के तलवे चाट रहा था, तब मेरा बाप फांसी के तख्‍त को चूमकर इंकलाब जिंदाबाद के नारे लगा रहा था।'

एक दिन पहले महाराष्ट्र सरकार में मंत्री अशोक चव्हाण ने भी जताया था विरोध

इससे पहले महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने रविवार को संशोधित नागरिकता कानून को राज्य में लागू नहीं करने की बात कही थी। उन्होंने कहा, 'जब तक हमारी सरकार है तब तक राज्य में इसे लागू नहीं होने देंगे।' चव्हाण ने यह भी कहा था कि वे (कांग्रेस) मुस्लिम भाइयों की अपील पर भाजपा को हटाने के लिए सरकार में शामिल हुए हैं। हमारे तमाम मुस्लिम भाइयों ने कहा- भाजपा हमारी दुश्मन है। अगर भाजपा को रोकना है तो कांग्रेस को सरकार में शामिल होना चाहिए।

इससे पहले भी कांग्रेस के कई नेता इसका विरोध कर चुके हैं। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और राज्य में कांग्रेस के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने सीएए को लेकर कहा था कि 'हमारी भूमिका स्पष्ट है, हम सीएए को महाराष्ट्र में लागू नहीं करेंगे।' उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों का साझा बयान जारी होगा।' थोराट ने कहा कि 'अदालत का फैसला आने तक हम इंतजार करें।'महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा था कि केंद्र सरकार कानून जरूर बना सकती है, लेकिन उसे लागू करने का जिम्मा पूरी तरह राज्य सरकार के पास होता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना