केरल / शव को महाराष्ट्र तक लाने के लिए एंबुलेंस ऑपरेटर ने मांगे 45000, पैसे नहीं थे तो टैक्सी की डिक्की में शव रख ले गया पति



इसी कार में शव रखकर महाराष्ट्र के लिए निकला था पति। इसी कार में शव रखकर महाराष्ट्र के लिए निकला था पति।
X
इसी कार में शव रखकर महाराष्ट्र के लिए निकला था पति।इसी कार में शव रखकर महाराष्ट्र के लिए निकला था पति।

  • पति ने पुलिस को बताया कि पैसे न होने के कारण उसने यह कदम उठाया है
  • महिला के पति मूल रूप से महाराष्ट्र के रहने वाले हैं और वे चाहते थे कि अंतिम संस्कार महाराष्ट्र में हो

Dainik Bhaskar

Mar 18, 2019, 08:34 AM IST

मुंबई. केरल में कैंसर से महिला की मौत के बाद शव को टैक्सी की डिक्की में डालकर ला रहे पति को पुलिस ने जांच के दौरान पकड़ लिया। पूछताछ में पति का तर्क था कि एंबुलेंस ऑपरेटर ने उससे 45000 रुपए किराया मांगा था। लेकिन, पैसे नहीं होने की वजह से उसे पत्नी के शव को लेकर टैक्सी से आना पड़ा। वहीं, केरल के मेडिकल प्रशासन ने एंबुलेंस के लिए अर्जी नहीं दिए जाने का दावा किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 


दरअसल, महाराष्ट्र की रहने वाली महिला चंद्रकला (45) का केरल में कैंसर का उपचार चल रहा था। 15 मार्च को महिला का निधन हो गया। पति अंतिम संस्कार महाराष्ट्र में ही करना चाहता था। ऐसे में उसने शव को महाराष्ट्र तक लाने के लिए एंबुलेंस ऑपरेटर से बात की। लेकिन किराया ज्यादा होने पर वह पैसे का बंदोबस्त नहीं कर सका। ऐसे में उसने शव को कार की डिक्की में डालकर महाराष्ट्र तक लाने का फैसला किया।

 

बॉडी को प्राइवेट ट्रांसपोर्ट से ले जाने के कागजात नहीं थे

 

केरल पुलिस ने स्टेशन एरिया में कार को पुलिस ने पकड़ लिया और डिक्की से महिला का शव बरामद किया। मामले की जांच कर रहे इंस्पेक्टर एनबी शिजू ने बताया कि महिला के पति के पास अस्पताल का मृत्यु प्रमाण पत्र था, लेकिन बॉडी को प्राइवेट ट्रांसपोर्ट से ले जाने के जरूरी कागजात नहीं थे। हालांकि हॉस्पिटल की एनओसी के बाद पुलिस ने उसे जाने दिया। विवाद बढ़ने पर मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के सुपरिंटेंडेंट ने कहा कि उनके पास किसी ने एंबुलेंस के लिए अर्जी नहीं दी थी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना