Hindi News »Maharashtra »Nagpur» Atm Broken By Thief

दो ATM काट कर चाेरों ने उड़ाए 20 लाख रुपए, किसी ने नहीं सुनी तोड़फोड़ की आवाज

सुबह जब सफाई कर्मी वहां पहुंचा तो मशीन की हालत देखकर दंग रह गया।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 13, 2018, 06:27 AM IST

दो ATM काट कर चाेरों ने उड़ाए 20 लाख रुपए, किसी ने नहीं सुनी तोड़फोड़ की आवाज

नागपुर. दो एटीएम को काटकर उसमें से बीस लाख रुपए की नकदी उड़ी ली। चोरी की यह सनसनीखेज वारदात देर रात हिंगना थानांतर्गत डोंगरगांव में हुई। डेढ़ महीने के भीतर इसी एटीएम सेंटर में चोरी की यह दूसरी बड़ी वारदात है। इस घटना से जहां बैंक अधिकारी और पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है, वहीं प्रकरण को लेकर संदेह भी व्यक्त किया जा रहा है। अभी तक आरोपियों का सुराग नहीं मिला है।

सुबह सफाई कर्मी मशीन की हालत देखकर दंग रह गया

- वर्धा रोड स्थित डोंगरगांव में बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम सेंटर है। एक ही सेंटर में दो मशीनें लगी हुई हैं, जो गणेश धुर्वे नामक व्यक्ति के घर में किराए से है। शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात में किसी ने एटीएम सेंटर में प्रवेश किया। भीतर जाने के बाद एटीएम का शटर गिरा दिया था।

- उसके बाद आरोपी ने बारी-बारी से गैस कटर की मदद से दोनों एटीएम मशीन को काट दिया और उसमें से करीब 19 लाख 73 हजार 400 रुपए की नकदी चोरी की।

- सुबह जब सफाई कर्मी अशोक लढेकर सफाई के लिए वहां पहुंचा तो मशीन की हालत देखकर दंग रह गया। उसने तत्काल चोरी होने की सूचना बैंक प्रबंधक नरेंद्र धोटे (37) मानेवाड़ा निवासी को दी। नरेंद्र की सूचना पर आला पुलिस अधिकारियों के अलावा एटीएम में नकदी जमा करने वाली एजेंसी ईपीएस के लोग भी पहुंचे।

न तोड़फोड़ की किसी ने सुनी आवाज, न लगी एटीएम से पैसे चोरी की भनक

एजेंसी के लोगों का कहना था कि, उन्होंने घटना के एक दिन पहले ही उस एटीएम सेंटर में नकदी जमा की थी। जो की चोरी हो गई। पुलिस ने मकान मालिक गणेश धुर्वे और परिसर के अन्य लोगों से पूछताछ की है, लेकिन उनका कहना है कि उन्हें चोरी की कोई जानकारी नहीं है और न ही उन्होंने तोड़फोड़ की आवाज सुनी है। इस बीच एटीएम सेंटर के कुछ ही अंतराल पर कचरे में मशीन के खाली डिब्बे पाए गए हैं।


गश्ती दल भी संदेह के घेरे में

डेढ़ महीने पहले इसी एटीएम में हुई चोरी की घटना के बाद से दरमियानी रात को पुलिस का गश्ती दल एटीएम के सुरक्षित होने का जायजा लिया था। ताजा घटनाक्रम के दौरान भी पुलिस का मानना है कि रात करीब दो बजे उन्होंने एटीएम का जायजा लिया था। उस वक्त सब कुछ ठीक था। सूत्रों के अनुसार दो-दो एटीएम मशीन काटने के कारण आरोपियों को घटना को अंजाम देने में काफी समय लगा होगा। अगर देर रात दो बजे गश्ती दल वहां पर पहुंचा तो आरोपी पुलिस के हाथ लगने चाहिए थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ है। जिससे गश्ती दल भी संदेह के घेरे में आ गया है।


दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×