--Advertisement--

पुलिस ने जलाई थी युवक की बाॅडी, भाईयों ने की आत्मदाह करने की कोशिश

यह मामला सीआईडी को सौंपा गया था लेकिन मृतक परिवार ने कहा है कि सीईडी की जांच पर उन्हें भरोसा नहीं है।

Danik Bhaskar | Nov 28, 2017, 04:55 PM IST
पुलिस ने अनिकेत कोथले के भाई को हिरासत में लिया। पुलिस ने अनिकेत कोथले के भाई को हिरासत में लिया।

सांगली/कोल्हापुर. कुछ दिन पहले चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार युवक की पुलिस इंस्पेक्टर और साथी द्वारा थर्ड डिग्री टाॅर्चर से मौत हुई थी। यह मामला सीआईडी को सौंपा गया था। लेकिन मृतक परिवार ने कहा है कि सीईडी की जांच पर उन्हें भरोसा नहीं है। मामले की जांच सही तरीके से नहीं हो रही यह आरोप लगाते हुए उसके दो भाईयों ने मिट्टी का तेल उडेलकर आत्मदाह करने की कोशिश की। सांगली पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने अनिकेत कोथले नामक मृतक के भाई आशीष और अमित कोथले को हिरासत में लिया है।

 

 


क्या है पूरा मामला ? 

-इंजीनियर से लूटपाट के आरोप में पुलिस ने अनिकेत कोथले नामक युवक और उसके साथी को गिरफ्तार किया था।
-पुलिस थाने में थर्ड डिग्री टाॅर्चर से अनिकेत की पुलिस कस्टडी में मौत हुई। पुलिस वालों ने मामला दबाने के लिए अनिकेत कस्टडी से भागने की झूठी कहानी रची।
- वहीं उसकी लाश को 130 किलोमीटर दूर आंबोली ले जाकर जलाया। यह मामले सामने आने पर पुलिस इंस्पेक्टर युवराज कामटे सहित पांच कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया। वहीं अब तक 12 कर्मचारियों को निलंबित किया गया है।
-इस मामले की जांच सीईडी को सौंपी गई है लेकिन अनिकेत का परिवारवालों ने जांच सही तरीके न होने का आरोप लगाया है।

 

अनिकेत कोथले (फाइल) अनिकेत कोथले (फाइल)
इंस्पेक्टर युवराज कामटे और पांच पुलिस कर्मचारियों को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है। इंस्पेक्टर युवराज कामटे और पांच पुलिस कर्मचारियों को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है।