--Advertisement--

व्यापारी को आंखों में मिर्च पाउडर झोंक लुटा, तीन दिन बाद गिरफ्तार हुआ गिरोह

व्यापारी को अपनी बातों में उलझा रखा था और मौका देखते ही व्यापारी की आंख में मिर्च पाउडर डालकर लूट लिया था।

Danik Bhaskar | Nov 29, 2017, 05:06 PM IST
पुलिस ने आरोपियों से पूरा माल जब्त कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों से पूरा माल जब्त कर लिया है।

पुणे. पता पूछने के बहाने व्यापारी की आंखों में मिर्च पाउडर डालकर लूटने वाले गैंग को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। व्यापारी को अपनी बातों में उलझा रखा था और मौका देखते ही व्यापारी की आंख में मिर्च पाउडर डालकर लूट लिया था। ये वारदात पुणे में तीन दिन पहले हुई थी। पुणे क्राइम ब्रांच (युनिट 1) ने कार्रवाई कर गैंग को पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है।

-पुलिस कमिश्नर रश्मि शुक्ला ने प्रेस कांफ्रेस में बताया कि पुलिस को इस गैंग की खबर एक खबरी से मिली, ये गैंग एक ही जगह पर पकड़ा गया।
-पुलिस ने ट्रैप लगाकर प्रदीप उर्फ पद्मा आदिनाथ गायकवाड (29), योगेश जालिंदर (29), सूरज उर्फ टिल्या अशोक म्हस्के (23), अक्षय राम गायकवाड (22), आनंद उर्फ सिद्धू कदम (19) और करण जाणराव (19) को गिरफ्तार किया गया है।
-आरोपियों के पास से एक स्प्लेंडर बाइक, एक युनिकॉन बाइक, मोबाइल रिचार्ज वाउचर और नगद 4500 रुपए कुल मिलाकर एक लाख 76 हजार 700 रुपए का माल जब्त किया है।
- शिकायतकर्ता की श्री एजेंसी के नाम से मोबाइल वाऊचर की दुकान है, जहां पर ये आरोपी वाउचर लेने के बहाने जाते थे और व्यापारी पर नजर रखा करते थे।
-इस पूरे प्लान के मास्टर माइंड प्रदीप उर्फ पद्मा आदिनाथ गायकवाड और योगेश जालिंदर आल्हाट हैं।
-10 से 12 दिनों से इस लूट की प्लानिंग की गई थी। वारदात वाले दिन सूरज उर्फ टिल्या अशोक म्हस्के और करण अंकुश जाणराव दोनों व्यापारी के ऊपर नजर रखे हुए थे।
-व्यापारी जब पुणे के एकबोटे कॉलोनी के मनमोहन पार्क सोसायटी के गेट के सामने आया तो वहां का सिक्युरिटी गार्ड गेट खोल रहा था, तभी आरोपी व्यापारी के पास पता पूछने के बहाने आए और सिर पर रॉड मारकर जख्मी कर दिया।
- उसके बाद आंखों में मिर्च पाउडर डालकर, व्यापारी के हाथ से पैसे और मोबाइल वाउचर का बैग छीनकर फरार हो गए।

पुलिस कमिश्नर रश्मि शुक्ला ने प्रेस कांफ्रेस में यह जानकारी दी (फाइल) पुलिस कमिश्नर रश्मि शुक्ला ने प्रेस कांफ्रेस में यह जानकारी दी (फाइल)