--Advertisement--

जिन्होंने खरीदी दाऊद की प्रॉपर्टी, वे बना रहे हैं देश की सबसे बड़ी टाउनशिप

यह ट्रस्ट मुंबई के सबसे भीड़भाड़ वाले भिंडी बाजार में देश की सबसे बड़ी शहरी पुनर्विकास परियोजना बना रहा है।

Dainik Bhaskar

Nov 15, 2017, 06:00 AM IST
भिंडी बाजार देश का सबसे भीड़भाड़ वाला इलाका है। भिंडी बाजार देश का सबसे भीड़भाड़ वाला इलाका है।
मुंबई. दाऊद इब्राहिम की तीन संपत्तियां मंगलवार को नीलाम कर दी गईं। संपत्तियों को सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट (एसबीयूटी) ने 11 करोड़ 58 लाख रुपए में खरीदा। एसयूबीटी के प्रवक्ता ने बताया कि खरीदी गई संपत्तियां जर्जर हालत में हैं इसलिए उनका जल्द ही पुनर्विकास किया जाएगा। यह ट्रस्ट मुंबई के सबसे भीड़भाड़ वाले भिंडी बाजार में देश की सबसे बड़ी शहरी पुनर्विकास परियोजना बना रहा है। इस परियोजना में तकरीबन 4000 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। क्या है इस परियोजना में खास...
- भिंडी बाजार पुनर्विकास परियोजना देश की सबसे बड़ी शहरी पुनर्विकास परियोजना है। भिंडी बाजार मुंबई का सबसे घनी आबादी वाले इलाकों में से एक है।
- इस इलाके पर कई फिल्में भी बनी हैं और इसको लेकर कई कहानियां भी हैं। यह अपनी तंग गलियों, भीड़-भाड़, कई अवैध धंधों के लिए मशहूर रहा है, उसका ज्यादातर हिस्सा इतिहास के पन्नों में और मुंबई के माफियाओं, भाई लोगों पर बनी फिल्मों में रह जाएगा।
- बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट यहां कई आवासीय टावर बना रहा है। भिंडी बाजार के आधे से ज्यादा लोग अपने पुराने घर छोड़ चुके हैं और नए घरों के बनकर तैयार होने तक के लिए वैकल्पिक घरों में रह रहे हैं। इस परियोजना में 20 हजार लोगों को नए घर मिलेंगे।
2018 से मिलने शुरू हो जाएंगे नए घर
- भिंडी बाजार के लोगों के सहयोग से इस इलाके के मकान गिराने शुरू कर दिए गए हैं। बहुत से मकानों को गिरा दिया गया है और 1700 परिवार यहां से दूसरी जगह रहने लगे हैं। पहले टावर में 2018 में मकान मिलने शुरू हो जाएंगे।
- इस परियोजना में महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी के साथ-साथ कई धार्मिक संगठन भी शामिल हैं।
मुस्लिम बाहुल्य है भिंडी बाजार
- भिंडी बाजार में रहने वाली ज्यादातर आबादी मुसलमान है, ऐसे में सरकारी अथॉरिटी और बिल्डरों के लिए उन्हें भरोसे में लेना थोड़ा सा ज्यादा कठिन था। ऐसे में बोहरा मुस्लिम समुदाय के सैफी बुरहानी उत्थान ट्रस्ट ने अहम भूमिका निभाई।
- ट्रस्ट ने लोगों को भरोसा दिलाया और इसे एक परोपकारी काम बताया। कुछ लोग जो घरों को तोड़े जाने और इस परियोजना का विरोध कर रहे थे, उन्हें भी इस ट्रस्ट ने ही समझाया।

बिहाइंड बाजार से बना था भिंडी बाजार
- भिंडी बाजार के नाम के पीछे भी दिलचस्प कहानी है। अंग्रेजों के शासन में क्रॉफर्ड मार्किट के पीछे कामगारों के लिए कमरे बनाए गए। ये एरिया बाजार के पीछे की तरफ था इसलिए अंग्रेज इसे 'बिहाइंड द बाजार' कहते थे।
- यहां आकर रहे मजदूरों ने 'बिहाइंड द बाजार' को धीरे-धीरे भिंडी बाजार कर दिया और फिर यही नाम मशहूर हो गया।
- ये जगह बनाई तो पुरूष मजदूरों के लिए गई थी लेकिन धीरे-धीरे वो अपने बीवा-बच्चों को भी यहां लाने लगे। आगे चलकर ये एक भीड़-भाड़ वाला इलाका बन गया।
- 1970 और 80 के दशक में जब मुंबई में गैंगवार, क्राइम और स्मगलिंग ने पैर पसारे तो भिंडी बाजार भी इससे अछूता नहीं रहा। दाउद इब्राहिम यहीं रहा है।
बोहरा समुदाय का बड़ा योगदान
- आज भिंडी बाजार की 80 फीसदी इमारतों को रहने के लिए असुरक्षित कहा गया है। ईंट और गारे से बनी यहां के मकान इस स्थिति मे नहीं कि यहां रहा जा सके।
- अभी भी कुछ किराएदार और मकान मालिक अपने घरों को छोड़ने को तैयार नहीं हैं। इन लोगों से ट्रस्ट और सरकार के लोग बात कर रहे हैं। जो लोग अभी भी जगह छोड़ने को तैयार नहीं उनसे सरकार मकान खाली कराएगी।
- यहां के निवासियों के मुताबिक, धार्मिक नेता सैयद मुहम्मद बुरहानुद्दीन ने अपने जीवन काल में इसके बारे में फैसला कर लिया था तो इसके विरोध का कोई तुक ही नहीं है।
आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज...
बुरहानी ट्रस्ट यहां देश की सबसे बड़ी टाउनशिप बना रहा है। बुरहानी ट्रस्ट यहां देश की सबसे बड़ी टाउनशिप बना रहा है।
इसी जगह बन रही है टाउनशिप। इसी जगह बन रही है टाउनशिप।
2018 तक सभी को मिल जाएंगे उनके फ्लैट्स। 2018 तक सभी को मिल जाएंगे उनके फ्लैट्स।
भीड़भाड़ वाले इलाके में बनेगी ऐसी खूबसूरत इमारतें। भीड़भाड़ वाले इलाके में बनेगी ऐसी खूबसूरत इमारतें।
भिंडी बाजार के पुनर्विकास का काम जारी है। भिंडी बाजार के पुनर्विकास का काम जारी है।
जर्जर बिल्डिंगों को गिरा कर उनकी जगह नई इमारत बनाई जा रही है। जर्जर बिल्डिंगों को गिरा कर उनकी जगह नई इमारत बनाई जा रही है।
यह इलाका गैंगवार और क्रिमनल्स के लिए बदनाम था। यह इलाका गैंगवार और क्रिमनल्स के लिए बदनाम था।
यहां मॉल और सिनेमाहॉल बनाया गया है। यहां मॉल और सिनेमाहॉल बनाया गया है।
भिंडी बाजार में बनने वाली इमारतों का प्रस्तावित मॉडल। भिंडी बाजार में बनने वाली इमारतों का प्रस्तावित मॉडल।
छोटो मकानों की जगह दिया जाएगा ऐसे खूबसूरत फ्लैट। छोटो मकानों की जगह दिया जाएगा ऐसे खूबसूरत फ्लैट।
X
भिंडी बाजार देश का सबसे भीड़भाड़ वाला इलाका है।भिंडी बाजार देश का सबसे भीड़भाड़ वाला इलाका है।
बुरहानी ट्रस्ट यहां देश की सबसे बड़ी टाउनशिप बना रहा है।बुरहानी ट्रस्ट यहां देश की सबसे बड़ी टाउनशिप बना रहा है।
इसी जगह बन रही है टाउनशिप।इसी जगह बन रही है टाउनशिप।
2018 तक सभी को मिल जाएंगे उनके फ्लैट्स।2018 तक सभी को मिल जाएंगे उनके फ्लैट्स।
भीड़भाड़ वाले इलाके में बनेगी ऐसी खूबसूरत इमारतें।भीड़भाड़ वाले इलाके में बनेगी ऐसी खूबसूरत इमारतें।
भिंडी बाजार के पुनर्विकास का काम जारी है।भिंडी बाजार के पुनर्विकास का काम जारी है।
जर्जर बिल्डिंगों को गिरा कर उनकी जगह नई इमारत बनाई जा रही है।जर्जर बिल्डिंगों को गिरा कर उनकी जगह नई इमारत बनाई जा रही है।
यह इलाका गैंगवार और क्रिमनल्स के लिए बदनाम था।यह इलाका गैंगवार और क्रिमनल्स के लिए बदनाम था।
यहां मॉल और सिनेमाहॉल बनाया गया है।यहां मॉल और सिनेमाहॉल बनाया गया है।
भिंडी बाजार में बनने वाली इमारतों का प्रस्तावित मॉडल।भिंडी बाजार में बनने वाली इमारतों का प्रस्तावित मॉडल।
छोटो मकानों की जगह दिया जाएगा ऐसे खूबसूरत फ्लैट।छोटो मकानों की जगह दिया जाएगा ऐसे खूबसूरत फ्लैट।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..