Hindi News »Maharashtra »Pune »News» 1 Lakh Fellowship For 20 Women To Bring Social Change In Rural Area

20 महिलाओं को ग्रामीण इलाके में सामाजिक परिवर्तन लाने के लिए मिली 1 लाख की फेलोशीप

सामाजिक परिवर्तन लाने वाली 20 महिलाओं को एक-एक लाख रुपये की उन्नती फेलोशीप प्रदान की गया है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - May 28, 2018, 05:57 PM IST

  • 20 महिलाओं को ग्रामीण इलाके में सामाजिक परिवर्तन लाने के लिए मिली 1 लाख की फेलोशीप
    +1और स्लाइड देखें
    स्वयं शिक्षण प्रयोग (एसएसपी) द्वारा पद्म विभूषण डाॅ. रघुनाथ माशेलकर की उपस्थिति में पुणे में आयोजित उन्नती ग्लोबल फोरम एंड अवार्ड्स कार्यक्रम में यह पुरस्कार दिए गए।

    मुंबई/पुणे. महाराष्ट्र के ग्रामीण इलाके में मुश्किल परिस्थिति को मात देते हुए पर्यावरण, स्वास्थ्य, जल सुरक्षा, विकास, कृषि और व्यावसाय के क्षेत्र में कार्य कर सामाजिक परिवर्तन लाने वाली 20 महिलाओं को एक-एक लाख रुपये की उन्नती फेलोशीप प्रदान की गई है।

    महिलाओं की चुनौतियों पर हुई चर्चा
    - स्वयं शिक्षण प्रयोग (एसएसपी) द्वारा पद्म विभूषण डाॅ. रघुनाथ माशेलकर की उपस्थिति में पुणे में आयोजित उन्नती ग्लोबल फोरम एंड अवार्ड्स कार्यक्रम में सर्वसमावेशक विकास में महिलाओं की प्रेरक सहभागिता, महिला किसानों को बदलते मौसम की चुनौती से निपटने के लिए तैयार करने और महिलाओं को परिवर्तन प्रक्रिया में आधार देने वाली सहकारी संस्थाएं और उनकी प्रक्रिया जैसे कई महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा हुई।


    राज्य के आर्थिक विकास में इन महिलाओं का बड़ा हाथ
    - इस मौके पर डाॅ. माशेलकर ने कहा, “महिलाओं का सक्षमीकरण करके ही नये भारत का निर्माण किया जा सकता है। भारतीय महिलाओं की गुणवत्ता का कोई मुकाबला नहीं है। भले ही “उन्नती फेलोशीप” पाने वाली महिलाएं कम शिक्षित हैं, परंतु उन्हें अपने बच्चों को उच्च शिक्षित बनाने के लिए प्रयासरत रहना ही चाहिए।”
    - स्वयं शिक्षण प्रयोग (एसएसपी) की संस्थापिका एवं संचालिका प्रेमा गोपालन ने कहा, “घर की चौखट भी कभी पार न करने वाली अल्पशिक्षित महिलाओं की राह में जब पारिवारिक-सामाजिक बंधन बाधा बन रही थी, तब स्वयं शिक्षण प्रयोग ने उनमें आत्मविश्वास निर्माण करने का काम किया। जिससे महिलाएं न सिर्फ सक्षम बनीं बल्कि राज्य के आर्थिक और विकास के मार्ग पर आगे बढ़कर महिलाओं की सफलता की नयी कहानी लिख डाली।”
    - उन्होंने बताया कि इन ही में से एक ग्रामीण इलाके की साधारण महिला कमल कुंभार, गोदावरी डांगे और अर्चना भोसले ने राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर का पुरस्कार अपनी मेहनत से हासिल कर देश भर की महिलाओं के सामने नया आर्दश निर्माण किया है।

  • 20 महिलाओं को ग्रामीण इलाके में सामाजिक परिवर्तन लाने के लिए मिली 1 लाख की फेलोशीप
    +1और स्लाइड देखें
    महाराष्ट्र के ग्रामीण इलाके में मुश्किल परिस्थिति को मात देते हुए पर्यावरण, स्वास्थ्य, जल सुरक्षा, विकास, कृषि और व्यावसाय के क्षेत्र में कार्य कर सामाजिक परिवर्तन लाने वाली 20 महिलाओं को एक-एक लाख रुपये की उन्नती फेलोशीप प्रदान की गई है।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×