Hindi News »Maharashtra »Pune »News» 11 Chain Snatching In Just One Day At Pune.

पुणे: एक दिन में अलग-अलग इलाकों में चेन स्नेचिंग की 11 वारदातें, वट पूर्णिमा की पूजा करने जा रही थी सभी

झपटमारों का शिकार हुई लगभग सभी महिलाएं पूजा के लिए जा रही थी इसी दौरान उनके साथ यह वारदात हुई।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 27, 2018, 02:15 PM IST

पुणे: एक दिन में अलग-अलग इलाकों में चेन स्नेचिंग की 11 वारदातें, वट पूर्णिमा की पूजा करने जा रही थी सभी

पुणे. शहर के अलग-अलग इलाकों में बुधवार को 11 चेन स्नेचिंग की वारदातें हुई। जिसके बाद पुणे में कानून व्यवस्था को लेकर सवालियां निशान लगने लगे हैं। आज वट पूर्णिमा का त्यौहार है। इस अवसर पर महिलाएं श्रृंगार करके मंदिर में जाती है। झपटमारों का शिकार हुई लगभग सभी महिलाएं पूजा के लिए जा रही थी इसी दौरान उनके साथ यह वारदात हुई।


शहर में कहां-कहां हुई वारदात
- लश्कर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत सुबह 8.10 बजे चेन स्नेचिंग की घटना घटी
- शिवाजीनगर इलाके में 8.20 मिनट पर चेन स्नेचिंग की घटना हुई।
- सांगवी में सुबह से चार चेन स्नेचिंग की घटनाएं हो चुकी हैं। यहां पहली घटना सुबह 8.45 बजे के करीब, उसके बाद 8.55 बजे के करीब, तीसरी घटना 9.05 बजे घटी और चौथी घटना सुबह 9.15 बजे के करीब हुई।
- वाकड़ में चेन स्नेचिंग की घटना 9.20 बजे हुई।
- चतुश्रृंगी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत 10 बजे के करीब चेन स्नेचिंग की घटना हुई।
- साथ ही भारती विद्यापीठ इलाके में 10.30 बजे के करीब और कोंढवा में 10.40 बजे के दौरान दो महिलाओं के गले से मंगलसूत्र और चेन छीनी गई।


पिछले साल भी इस दिन हुई थी 12 वारदातें
- पिछले साल भी वट पूर्णिमा के अवसर पर शहर में 12 चेन स्नेचिंग की वारदातें हुई थी। इतनी तेजी से दोपहर से पहले ही 11 चेन स्नेचिंग की घटनाओं ने पुलिस के काम करने के तरीके पर सवालियां निशान लगा दिया है।


मंदिरों और धार्मिक स्थलों पर बढ़ी सुरक्षा
एक ही दिन में इतनी वारदातों के बाद पुणे के सभी चर्चित धार्मिक स्थलों पर अतरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंघाल रही है।

फोटो: प्रतीकात्मक

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×