--Advertisement--

40 घंटे तक माता-पिता की बॉडी के पास बिलखती रही बच्ची, बताया ये सच

मामला महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के अकोले इलाके का है।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 10:08 AM IST
बच्ची के दादा ने पुलिस को दी इस बच्ची के दादा ने पुलिस को दी इस

अहमदनगर. महाराष्ट्र के अहमदनगर में एक शख्स ने घरेलू कलह में पहले अपनी वाइफ की हत्या की और फिर फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। दोनों की बॉडी 40 घंटे तक घर में पड़ी रही और 3 साल की मासूम बच्ची पास बैठ बिलखती रही। भूख से बेहाल बच्ची ने घर में रखी सूखी रोटियां खाई। किसी तरह से उससे फोन पर दादा का नंबर लग गया और इस घटना का खुलासा हुआ। ऐसे हुई दोनों की मौत...

- मामला महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के अकोले इलाके का है। यहां रोज-रोज की लड़ाई से तंग आकर एक पान बेचने वाले प्रकाश निवृत्ती बंदावणे (33) ने अपनी पत्नी चित्रा की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद फांसी का फंदा बना कर पंखे से लटक गया।
- पुलिस के मुताबिक, जिस समय ये घटना हुई उस समय घर में उनकी तीन साल की बेटी भी मौजूद थी। उसने अपने माता-पिता को मरते हुए देखा।
- वह लगातार रोती रही और अपने माता-पिता को उठाने का प्रयास करती रही। लेकिन दरवाजा और खिड़की बंद होने के कारण रोने की आवाज बाहर नहीं जा सकी।
- जांच टीम के एक अधिकारी ने बताया कि बच्ची पूरे 40 घंटे तक शव के पास रही। उसके पास रोटी के कुछ टुकड़े मिले हैं, जिसे देख लगता है कि भूख मिटाने के लिए उसने सूखी रोटी खाई होगी।

दादा को लगाया था कॉल
- जब माता-पिता नहीं जागे तो बच्ची ने उनके फोन को लेकर दबाना शुरू किया और संयोगवश फोन उसके दादा के पास लगा।
- दादा ने बच्ची के रोने की आवाज सुनी और उन्हें लगा कि कुछ गड़बड़ है। दादा ने घर के दूसरे नंबर ट्राई किए लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया।
- संदेह बढ़ने पर दादा ने स्थानीय पुलिस स्टेशन को फोन कर इसकी सूचना दी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़ घर में एंट्री ली और उन्हें एक कमरे में हसबैंड-वाइफ की बॉडी बरामद हुई।

बच्ची ने पुलिस को बताई सारी कहानी
- पुलिस के मुताबिक, बच्ची को जब बरामद किया गया तो वह भूख से बेहाल तड़प रही थी। उसने रोते हुए पुलिस को सारी कहानी बताई।
- फिलहाल इस मामले को पुलिस घरेलू कलह के एंगल से देखते हुए जांच को आगे बढ़ा रही है। बच्ची अभी अपने दादा के पास ही है।