--Advertisement--

दाऊद इब्राहिम का खास गुर्गा फारुख टकला मुंबई लाया गया, जारी था रेड कॉर्नर नोटिस

1993 ब्लास्ट के बाद 1995 में फारुक के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था।

Dainik Bhaskar

Mar 08, 2018, 08:55 AM IST
1995 में फारुख के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। -फाइल 1995 में फारुख के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। -फाइल

मुंबई. दाऊद इब्राहिम के करीबी फारुख टकला को सीबीआई की टीम गुरुवार सुबह दुबई से मुंबई लाई। उसे मंगलवार को गिरफ्तार किया गया था। वह 1993 में किए गए मुंबई सीरियल ब्लास्ट का आरोपी है। उसके खिलाफ 1995 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था।

क्या बोले उज्ज्वल निकम?

- "ये बहुत कामयाबी है। फारुख 1993 मुंबई बम ब्लास्ट में शामिल था। दाऊद गैंग के लिए ये बड़ा झटका है।"

- निकम सरकारी वकील हैं। अजमल कसाब को फांसी दिलाने में निकम की अहम भूमिका थी।

सीबीआई दफ्तर में की जा रही पूछताछ

- फारुख को एयरपोर्ट से सीधे मुंबई स्थित सीबीआई दफ्तर ले जाया गया, जहां उससे पूछताछ की जा रही है। उसे गुरुवार को स्पेशल टाडा कोर्ट में पेश किया जाएगा।

फारुख पर क्या है आरोप?
- फारुख पर 1993 ब्लास्ट केस में साजिश, हत्या, आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप है।

दो घंटे में हुए थे 12 धमाके
- 12 मार्च 1993 को मुंबई में दो घंटे के भीतर सिलसिलेवार 12 धमाके हुए थे। इनमें 257 लोगों की मौत हुई, 713 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए थे।

कोर्ट ने 100 लोगों को दोषी ठहराया था
- 600 लोगों की गवाही के बाद 2007 में हुई सुनवाई के पहले फेज में टाडा कोर्ट ने याकूब मेमन और संजय दत्त समेत 100 लोगों को दोषी ठहराया था, जबकि 23 लोग बरी हुए थे। मेमन को फांसी चढ़ाया जा चुका है। अवैध हथियार मामले में संजय अपनी सजा पूरी कर चुके हैं। 4 नवंबर, 1993 को 10 हजार पन्नों की चार्जशीट दायर की गई थी।

आरोप है कि फारुख ने दाऊद के कहने पर धमाकों की साजिश रची थी। -फाइल आरोप है कि फारुख ने दाऊद के कहने पर धमाकों की साजिश रची थी। -फाइल
X
1995 में फारुख के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। -फाइल1995 में फारुख के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। -फाइल
आरोप है कि फारुख ने दाऊद के कहने पर धमाकों की साजिश रची थी। -फाइलआरोप है कि फारुख ने दाऊद के कहने पर धमाकों की साजिश रची थी। -फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..