--Advertisement--

रिहायशी इलाके में घुसे तेंदुए ने 8 को किया घायल, 6 घंटे की मशक्कत के बाद पकड़ा

बंदूक से इंजेक्शन मार उसे बहोश किया गया और पकड़ा गया।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 10:52 AM IST
मुलुंड के रिहायशी इलाके में घुसे तेंदुए को 6 घंटे की मशक्कत के बाद पकड़ा गया। मुलुंड के रिहायशी इलाके में घुसे तेंदुए को 6 घंटे की मशक्कत के बाद पकड़ा गया।

मुंबई. शहर के उपनगर मुलुंड स्थित नानीपाड़ा इलाके में घुसे एक तेंदुए ने 8 लोगों को घायल कर दिया। एक घर में घुसे तेंदुए को बाहर निकालने के लिए फाॅरेस्ट डिपार्टमेंट के कर्मचारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। यह वारदात शनिवार सुबह सात बजे हुई। आखिरकार बंदूक से इंजेक्शन मार उसे बहोश किया गया और पकड़ा गया।  

 

 

-मुलुंड का यह इलाका पहाड़ों और जंगलों से घिरा हुआ है। तेंदुए ने हमला कर बालाजी कामटे (40), कृष्ण पिल्ले (40), सविता कूटे (30) गणेश पुजारी (45) समेत अन्य चार लोगों को घायल कर दिया।
- खबर मिलते ही पुलिस और फाॅरेस्ट डिपार्टमेंट की एक टीम मौके पर पहुंच गई और इलाके को घेर लिया।
-करीब 6 घंटे की मशक्कत के बाद एक बिल्डिंग में छिपे तेंदुए को बेहोश कर पकड़ा और वापस उसे जंगल में ले जाकर छोड़ दिया। 

बिल्डिंग में छिपे तेंदुए को बंदूक से इंजेक्शन मार बेहोश किया गया। बिल्डिंग में छिपे तेंदुए को बंदूक से इंजेक्शन मार बेहोश किया गया।
एक कमरे में छिपे तेंदुए को बहोश करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। एक कमरे में छिपे तेंदुए को बहोश करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी।
तेंदुआ रेस्क्यू टीम पर अटैक कर रहा था लेकिन उससे पहले उसे बेहोश किया गया। तेंदुआ रेस्क्यू टीम पर अटैक कर रहा था लेकिन उससे पहले उसे बेहोश किया गया।
तेंदुए के हमले में 8 लोग गंभीर रुप से घायल हुए हैं उनका हाॅस्पिटल में इलाज चल रहा है। तेंदुए के हमले में 8 लोग गंभीर रुप से घायल हुए हैं उनका हाॅस्पिटल में इलाज चल रहा है।