Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Engineer Sold His Successful Startup To Become A Hi Tech Farmer

साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई

उसका दावा है कि वह गोवा का हाइड्रोपोनिक फार्मिंग करने वाला पहला किसान है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 07, 2018, 10:11 AM IST

  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    गोवा के करसवाडा में रह रहे साॅफ्टवेयर इंजीनियर अजय नाईक ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर राज्य का पहला हाइड्रोपोनिक फार्म (हाईटेक ) शुरू किया है।

    पणजी (गोवा)।यहां के एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने अपनी खुद की कंपनी बेच हाईटेक फार्मिंग शुरू की है। केमिकल से मुक्त ओरगैनिक सब्जियां को उगाने और किसानों की मदद के लिए उसने यह फैसला लिया है। उसने पिछले दो सालों से गोवा के हजारों किसानों को ट्रेनिंग दी है। वहीं उसके फार्म में उगायी जाने वाली ऑरगैनिक सब्जियों से लाखों की कमाई भी हो रही है। उसका दावा है कि वह गोवा का हाइड्रोपोनिक फार्मिंग करने वाला पहला किसान है। एेसे शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग...


    -मूल रुप से कर्नाटक के रहने वाले अजय नाईक (33) एक सॉफ्टवेयर कंपनी में जाॅब के लिए गोवा आए थे।
    -कंपनी में कुछ साल तक काम करने के बाद उन्होंने 2011 में मोबाइल एप्लीकेशन बनाने वाली अपनी खुद की कंपनी शुरू की।
    -कंपनी का टर्नओवर भी अच्छा खासा था। लगातार पांच सालों तक उनकी कंपनी ने काफी तरक्की भी कर ली थी। उनके घर वाले में इस तरक्की से खुश थें।

    किसानों की मदद का आया आइडिया

    -अजय बताते हैं कि वे गोवा के बाजार में मिल रही केमिकल युक्त सब्जियों को लेकर चिंतित थे।
    -लोगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए और किसानों को जागृत करने के लिए कुछ करने का विचार उनके मन में आया।
    -उसी समय उन्हें मिट्टी और केमिकल के बिना की जाने वाली हाइड्रोपोनिक फार्मिंग के बारे में पता चला।
    -उन्होंने पुणे के एक हाइड्रोपोनिक फार्मर से इसका प्रशिक्षण भी लिया और इसी को गोवा में बढ़ावा देने के लिए फार्मिंग शुरू करने का फैसला किया।
    -अजय ने 2016 में अपनी कंपनी बेची और जो पैसे मिले थे उससे गोवा के करसवाडा में हाइड्रोपोनिक फार्म बनाया।
    -इस फार्म के लिए ज्यादा पैसों की जरूरत थी लेकिन अजय की यह समस्या भी हल हुई उन्हें दो निवेशकों से मदद भी मिली और 6 लोगों की टीम के साथ काम शुरू हुआ।

    विदेशी सब्जियांं उगाकर कमा रहा लाखों

    -अजय अपने फार्म में एनएफटी का इस्तेमाल कर विदेशी सब्जियां उगाते हैं। इन सब्जियों की गोवा के फाइव स्टार होटलों, सुपर मार्केट और फार्मर्स मार्केट में अच्छी डिमांड है।
    वे अपने फार्म पर किसानों को ट्रेनिंग भी दे रहे हैं। उनसे ट्रेनिंग लेकर सैकडों किसानों ने गोवा में हाइड्रोपोनिक फार्मिंग शुरू की है।
    -सालभर में अजय की लेक्ट्रेट्रा एग्रोटेक कंपनी का टर्नओवर लाखों में बढ़ गया है। वहीं लोगों को हानिकारक रसायनों से मुक्त फ्रेश ऑरगैनिक सब्जियांं मिल रही है।


    स्वास्थ्य के लिए उपयोगी है हाइड्रोपोनिक क्रॉप्स

    -अजय का मानना है कि अच्छे खाने को लेकर हमारे सामने कई चुनौतियां हैं। बढ़ती आबादी, पानी की कमी और खराब ट्रांसपोर्टेशन और रासायनिकों को इस्तेमाल से ऑरगैनिक सब्जियांं नहीं मिल पाती।
    -इसके लिए हाइड्रोपोनिक फार्मिंग अच्छा विकल्प हैं। इसके कई फायदे हैं इस फार्मिंग से आपको 20 से 30 % अधिक उच्च गुणवत्ता वाली सब्जियांं मिलती है। पानी और पोषक तत्वों की खपत की बचत होती है।
    -वहीं बड़े शहरों में कम जगह पर अधिक सब्जियांं उगाई जा सकती है। वहीं लोगों को ताजा सब्जियांं मिलती है।


    किसानों के बच्चों को दी यह नसीहत

    -सॉफ्टवेयर कंपनी बेच हाइड्रोपोनिक फार्मिंग शुरु करने वाले अजय कहते हैं- कई किसानों के बच्चे एमबीए या इंजीनियरिंग करते हैं लेकिन फार्मिंग करना पसंद नहीं करते।
    -उन्हें पता है कि एग्रीकल्चर में कोई स्कोप नहीं लेकिन हम इसकी जड़ पर ध्यान नहीं दे रहे हैं कि लोगों अच्छा क्वालिटी वाला खाना नहीं मिलता है। जब लोग स्वस्थ खाना खाते हैं तो देश को भी स्वस्थ बना सकते हैं।

  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    अजय ने अपना अच्छा खासा चल रहा स्टार्टअप बेच यह फार्मिंग शुरू की है।
  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    अपने फार्म में उगाई गई सब्जियां मार्केट में बेचते अजय नाईक।
  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    गोवा के मार्केट में उनकी सब्बियों को अच्छी खासी डिमांड है।
  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    अजय ने 6 लोगों की टीम के साथ यह काम शुरू किया है।
  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    अपने फार्म में सेल्फी लेते हुए अजय नाईक।
  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    अजय लोगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कुछ करना चाहते थे।
  • साॅफ्टवेयर कंपनी बेच शुरू की हाइड्रोपोनिक फार्मिंग, लाखों में हो रही है कमाई
    +7और स्लाइड देखें
    उन्होंने किसानों के जागृत करने और लोगों को आॅरगैनिक सब्जियां मिलने के लिए यह फार्मिंग शुरू की।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×