--Advertisement--

पुणे: फेक कॉल सेंटर के सहारे 11 हजार अमेरिकीयों को लगाया चूना, तीन हुए अरेस्ट

पुलिस के मुताबिक, देश के अलग-अलग हिस्सों में इस तरह के कॉल सेंटर सक्रिय हैं।

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 12:45 PM IST
सिंबॉलिक फोटो सिंबॉलिक फोटो

पुणे. क्राइम ब्रांच टीम ने सोमवार रात शहर के कोरेगांव पार्क इलाके में स्थित एक फेक कॉल सेंटर पर छापा मार तीन लोगों को अरेस्ट किया है। इनपर 11 हजार अमेरिकी नागरिकों संग करोड़ों डॉलर के फ्रॉड का आरोप है। पुलिस के मुताबिक, देश के अलग-अलग हिस्सों में इस तरह के कॉल सेंटर सक्रिय हैं। ऐसे अंजाम देते थे वारदात...

- इन तीनों को अमेरिका की फेडरल गवर्नमेंट इंटरनल रेवन्यू सर्विसेज और फेडरल ट्रेड कमिशन की सहायता से पुणे पुलिस ने अरेस्ट किया है। अमेरिकन अधिकारी इस पूरे मामले में नजर रखे हुए है।
- आरोप है कि ये अमेरिकी नागरिकों को कथित रूप से टैक्स चोरी करने पर दंड की धमकी देकर धोखाधड़ी का शिकार बनाते थे।
- आरोपी रैंडम अमेरिकन नंबर पर फोन कर अमेरिकी एजेंसियों के नाम का इस्तेमाल करते हुए उनसे 500 डॉलर से लेकर 1000 डॉलर देने के लिए बाध्य करते थे।

देश के कई हिस्सों में इसी तरह के कॉल सेंटर
- पुणे पुलिस के मुताबिक, इनसे पूछताछ में सामने आया है कि इसी तरह के कॉल सेंटर देश के कई हिस्सों में चल रहे हैं। पुणे पुलिस की एक टीम बुधवार को इन कॉल सेंटर पर छापा मारने के लिए रवाना हुई है।
- पुलिस पुणे गिरफ्तार किए गए तीनों लोगों के बैंक खातों की जांच कर रही है। पुलिस ने चार और संदिग्ध लोगों की पहचान की है जिन्हें गिरफ्तार किया जाना बाकी है।

महाराष्ट्र में पहले भी पकड़े गए हैं फेक कॉल सेंटर

- इससे पहले पिछले साल जुलाई महीने में एंटी टेरेरिस्ट स्क्वॉड (ATS) ने महाराष्ट्र के लातूर और औरंगाबाद में फर्जी कॉल सेंटरों पर छापा डाला था।
- आर्मी के खुफिया विभाग से मिली जानकारी के बाद यह छापा डाला गया था। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।
- इसी तरह साल 2016 में पुणे के हिंजवाड़ी इलाके में एक घर के अंदर से चल रहे फेक कॉल सेंटर का भंडाफोड़ कर दो लोगों को अरेस्ट किया गया था। ये भी कई हजार अमेरिकी नागरिकों को करोड़ों का चूना लगा चुके थे।

X
सिंबॉलिक फोटोसिंबॉलिक फोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..