न्यूज़

--Advertisement--

गोवा के मंत्री का विवादित बयान,बोले- उत्तर भारतीय टूरिस्ट 'घरती पर गंदगी है'

शहरी और देश नियोजन मंत्री विजय सरदेसाई ने उत्तर भारत टूरिस्टों को लेकर विवादित बयान दिया है।

Dainik Bhaskar

Feb 10, 2018, 12:15 PM IST
एक आंकड़े के मुताबिक, गोवा में ह एक आंकड़े के मुताबिक, गोवा में ह

गोवा. राज्य के शहरी और देश नियोजन मंत्री विजय सरदेसाई ने उत्तर भारत टूरिस्टों को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि उत्तर भारत से आये टूरिस्ट 'धरती पर गंदगी' हैं और वे गोवा को हरियाणा बनाना चाहते हैं। बता दें कि, सरदेसाई गोवा फॉर्वड पार्टी के अध्यक्ष हैं जिन्होंने गोवा में बीजेपी के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई है। और क्या बोले मंत्री सरदेसाई...

- शुक्रवार को मंत्री विजय सरदेसाई गोवा बिज फेस्ट में बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा,"आज गोवा की आबादी टूरिस्टों के रूप में लगभग छह गुना है। ये पर्यटक धरती पर गंदगी हैं।"
- आगे उन्होंने नार्थ इंडियन टूरिस्टों को बाढ़ जैसे बताते हुए कहा,"हम गोवा को दूसरा गुरुग्राम नहीं बनने देना चाहते। गोवा में आज जो भी समस्या है उसके लिए उत्तर भारतीय जिम्मेदार हैं। इन राज्यों से आने वाले लोग वास्तव में गोवा को हरियाणा बनाना चाहते हैं।"


कड़े कानून की जरूरत
- ऐसे टूरिस्टों से निपटने के लिए मंत्री विजय सरदेसाई ने सरकार की सस्ती घरेलू पर्यटन पॉलिसी की भी आलोचना की। - उन्होंने कहा कि सरकार की पॉलिसी की वजह से ही राज्य में 1.2 करोड़ टूरिस्ट आ जाते हैं। उत्तर भारत से आने वाले पर्यटक गोवा में गंदगी और सफाई के मुद्दे को और मुश्किल बना रहे हैं।
- वहीं बीचों और शहरों में बढ़ रहे कचरे की समस्या को उजागर करते हुए मंत्री ने कहा, "जब से गोवा आने वाले पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है, उन्हें साफ-सफाई रखने के लिए शिक्षित और नियंत्रित नहीं किया जा पा रहा है। हमें ऐसे कानून लाने की जरूरत है जो आपको टैक्स देने, जुर्माना देने और कानून का पालन करने के लिए मजबूर कर देंगे।"

यह है मंत्री की सफाई
- विवादित बयान के बाद मंत्री ने अपनी सफाई में कहा, "दिल्ली, हरियाणा और गुरुग्राम से आने वालों की एक प्रवृति है कि वे सब कुछ हड़पना चाहते हैं। गोवा में रहने का हमारा तरीका अलग है। पचास साल पहले हमने जंग लड़ी और महाराष्ट्र के साथ जुड़ने से इनकार कर दिया था। अब हम एक अलग तरह की जंग लड़ रहे हैं जहां पर ऐसे लोग आकर हमारी प्रकृति पर प्रभाव डाल रहे हैं। वे यहां आते हैं और प्लोट खरीदकर बिल्डिंग बनाना शुरू कर देते हैं।"

पहले भी विवादित बयान दे चुके हैं गोवा के मंत्री
- इससे पहले गोवा के जल संसाधन मंत्री विनोद पालयेकर ने नदी के जल विवाद को लेकर 13 जनवरी को विवादित बयान देते हुए कर्नाटक के लोगों के लिए अपशब्द(गाली) कहे थे।

X
एक आंकड़े के मुताबिक, गोवा में हएक आंकड़े के मुताबिक, गोवा में ह
Click to listen..