Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Helicopter Has Lost Contact With Air Traffic Control At Mumbai

मुंबई के पास हेलिकाॅप्टर का ATC से संपर्क टूटा, ONGC कर्मचारी समेत 7 लोग सवार थे

इस हेलिकाप्टर में ओनजीसी कर्मचारियों समेत सात लोग मौजूद है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 13, 2018, 12:54 PM IST

मुंबई के पास  हेलिकाॅप्टर का ATC से संपर्क टूटा, ONGC कर्मचारी समेत 7 लोग सवार थे

मुंबई.ओएनजीसी का हेलिकॉप्टर शनिवार को मुंबई के पास अरब सागर में क्रैश हो गया। इसमें 2 पायलट समेत कुल 7 लोग सवार थे। कोस्ट गार्ड टीम ने 5 बॉडी बरामद कर ली हैं। उड़ान भरने के 10 मिनट के बाद ही पवनहंस हेलिकॉप्टर का संपर्क एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से टूट गया था। इसके बाद समंदर में नेवी और कोस्ट गार्ड की मदद से सर्च ऑपरेशन शुरू हुआ। कोस्ट गार्ड के सीजी शिप को हेलिकॉप्टर का मलबा मिला। अब तक हादसे की वजह साफ नहीं हो पाई है।

कब हुआ हेलिकॉप्टर हादसा?

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, हेलिकाॅप्टर ने शनिवार सुबह 10.20 बजे जुहू से उड़ान भरी थी। इसे 10.58 बजे ओएनजीसी के नॉर्थ फील्ड में उतरना था। लेकिन 10.30 बजे हेलिकॉप्टर का एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से संपर्क टूट गया।

कहां क्रैश हुआ हेलिकॉप्टर?

- उड़ान भरने के 10 मिनट बाद ही हेलिकॉप्टर लापता हो गया। तब यह मुंबई कोस्ट से 30 नॉटिकल माइल दूर था। माना जा रहा है कि यहीं पर पवनहंस हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ। बाद में कोस्ट गार्ड की रेस्क्यू टीम को इसका मलबा मिला।

हेलिकॉप्टर में कितने लोग सवार थे?

- इस हेलिकाॅप्टर में दो पायलट और ओएनजीसी के 5 डिप्टी मैनेजर सवार थे। इनमें से हेलिकॉप्टर उन्हें लेकर समंदर में स्थित ओएनजीसी के नॉर्थ फील्ड लेकर जा रहा था। अबतक जिन 5 लोगों की बॉडीज बरामद हुई है उनमें से दो के नाम वी.के. बाबू और पंकज गर्ग बताए गए हैं।

धर्मेंद्र प्रधान ने रक्षा मंत्री से मदद मांगी

- पेट्रोलियम मिनिस्टर धर्मेंद्र प्रधान मुंबई पहुंच कर एक कर्मचारी की फैमिली से भी मिले। उन्होंने कहा कि रेस्क्यू टीम अपना काम रही है।

- उन्होंने रक्षा मंत्री से बात कर हेलिकॉप्टर हादसे के बाद रेस्क्यू के लिए नेवी और कोस्ट गार्ड की मदद मांगी।

- कोस्ट गार्ड के 5 शिप, 2 डोर्नियर एयरक्राफ्ट और 2 हेलिकॉप्टर सर्च ऑपरेशन में लगाए गए हैं।

फडणवीस का हेलिकॉप्टर हादसे से बाल-बाल बचा था

- बता दें कि एक दिन पहले ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी का हेलिकाॅप्टर का हादसे का शिकार होते-होते बचा था। हेलिकाॅप्टर के सामने केबल आई थी, लेकिन पायलट की सूझबूझ से यह हादसा टला।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×