--Advertisement--

हाईकोर्ट ने सनबर्न को दी परमिशन, फेस्टिवल के खिलाफ पिटिशन को किया खारिज

पांच दिन पहले गांव के लोगों ने इस फेस्टिवल का विरोध किया था। वहीं फेस्टिवल के विरोध में कोर्ट मे पिटिशन भी दायर की गई थी

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 06:35 PM IST
पुणे के बावधन में सनबर्न फेस्टिवल का 28 से 31 दिसंबर तक आयोजन किया जा रहा है। (फाइल) पुणे के बावधन में सनबर्न फेस्टिवल का 28 से 31 दिसंबर तक आयोजन किया जा रहा है। (फाइल)

मुंबई/पुणे. हाईकोर्ट ने आखिरकार सनबर्न के विरोध में दायर पिटिशन खारिज कर फेस्टिवल को परमिशन दी है। आयोजकों और राज्य सरकार ने फेस्टिवल में नाबालिगों को शराब न परोसी जाने की और 150 कैमरे और 300 बाउंसर्स तैनात करने का आश्वासन देने के बाद कोर्ट ने यह परमिशन दी है। बता दे कि पांच दिन पहले गांव के लोगों ने इस फेस्टिवल का विरोध किया था। वहीं फेस्टिवल के विरोध में कोर्ट मे पिटिशन भी दायर की गई थी। गोवा से पुणे शिफ्ट हुआ था फेस्टिवल....


-पिछले कई सालों से गोवा में सनबर्न फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा था लेकिन पिछले साल इस पर ड्रग्ज सप्लाई का आरोप लगाते हुए इस पर रोक लगाई गई।
इसके बाद सनबर्न का आयोजन पुणे में किया गया था। पहले पुणे के मोशी में इस फेस्टिवल का विरोध हुआ।
-इसके बाद इसका आयोजन लोनीकंद गांव में किया गया, लेकिन वहां पर भी स्थानीय लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा था।
- इस बार पुणे से सटे बावधन इलाके में 28 से 31 दिसंबर तक फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है।
-इसके लिए वहां की चट्टानों को सपाट करने का काम शुरू था। एेसे में गांव के लोगों ने इस पर आपत्ति जताई थी।
-वहीं जेसीबी मशीन और मजदूरों बाहर निकाला गया था। बावधन और लवले गांव के लोगों ने अपने इलाके में सनबर्न फेस्टिवल को अनुमति न देने का फैसला भी किया था।


आयोजकों ने कोर्ट से क्या कहा ?

आयोजकों ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि सनबर्न एक इंटरनेशनल म्यूजिकल फेस्टिवल है। यहां देश विदेश के कलाकार अपनी कला पेश करते हैं।
-नए साल के स्वागत में इसका आयोजन किया जा रहा हे इसलिए यहां खाने पीने का सुविधा उपलब्ध करना अनिवार्य है।
-शराब बिक्री के लिए जरुरी परमिशन लेकर और नियमों का शर्तों का पालन करते हुए ही इस फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है।
- किसी प्रकार की अनुचित घटना टालने की और लाखों की भीड़ में नाबालिग बच्चों को नशा करने का शराब पीने का मौका न मिलने इसका ध्यान लिया जाएगा।
-सरकार ने कहा कि फेस्टिवल में पुलिस सिविल ड्रेस में तैनात होगी। लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के लिए समय की पाबंदी लगाई गई है। कानून का उल्लंघन न होने के लिए पूरा ध्यान रखा जाएगा।


आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज....

पांच दिन पहले बावधन और लवले गांव के लोगों ने सनबर्न फेस्टिवल का विरोध करते हुए ग्राउंड बनाने के काम पर रोक लगाई थी। पांच दिन पहले बावधन और लवले गांव के लोगों ने सनबर्न फेस्टिवल का विरोध करते हुए ग्राउंड बनाने के काम पर रोक लगाई थी।