--Advertisement--

राहुल गांधी के खिलाफ खड़ा हुआ ये शख्स, 10 पॉइंट्स में जानिए इनके बारे में

10 पॉइंट्स में हम आपको बताने जा रहे हैं राहुल के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले शहजाद पूनावाला वाला के बारे में।

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2017, 10:01 AM IST
In 10 points Know Who is Shehzad Poonawalla.

मुंबई. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए सोमवार को नामांकन दाखिल किया। राहुल की इस ताजपोशी को वंशवाद बताते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस से जुड़े और राहुल गांधी के रिश्तेदार शहजाद पूनावाला ने फिर आवाज उठाई है। उन्होंने सोमवार को दो ट्वीट किए। एक में उन्होंने राहुल के खिलाफ कांग्रेस द्वारा डमी कैंडिडेट उतारने के उम्मीद जताई तो दूसरी में कहा कि यह नॉमिनेशन नहीं ताजपोशी है। आज 10 पॉइंट्स में हम आपको बताने जा रहे हैं राहुल के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले शहजाद पूनावाला वाला के बारे में। 'मुझे सफदर हाशमी नहीं बनना'

- शहजाद ने अपनी ट्वीट में लिखा, "पार्टी के अंदर के शख्स ने मुझे बताया कि वंश (Dynasty) के सलाहकार 'शहजादा' के खिलाफ डमी कैंडिडेट उतारने पर विचार कर रहे हैं। सच ये कयामत क्यों है? वेल विशर ने यह भी कहा- शहजाद आज कांग्रेस दफ्तर पहुंचकर दूसरे सफदर हाशमी मत बनो। मेरी पार्टी के इतिहास का यह ब्लैक-डे है।"
- शहजाद ने अपनी इस ट्वीट के साथ कांग्रेस लीडर मणिशंकर अय्यर के उस आर्टिकल को अटैच किया, जिसमें उन्होंने ने भी वंशवाद का मुद्दा उठाया था। साथ ही मोदी का वह ट्वीट शेयर किया है, जिसमें कांग्रेस द्वारा शहजाद की आवाज दबाने की बात कही है।
- बता दें कि 1 जनवरी 1989 को गाजियाबाद के साहिबाबाद में रंगकर्मी हाशमी की कांग्रेस कैंडिडेट मुकेश शर्मा और उनके सपोर्टर्स ने हत्या कर दी थी। उस वक्त वे नगर पालिका चुनाव में सीपीएम कैंडिडेट के सपोर्ट में नुक्कड़ नाटक कर रहे थे।

मोदी का शुक्रिया

- शहजाद ने उनकी तारीफ करने के लिए नरेंद्र मोदी का शुक्रिया भी अदा किया।
- बता दें कि मोदी ने रविवार को सुरेंद्र नगर में कहा था, "आपने एक बहादुरी का काम किया है, लेकिन दुख की बात यह है कि कांग्रेस में हमेशा से ऐसा होता आया है। कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव में जो धांधली हो रही है उसे शहजाद ने उजागर किया है। कांग्रेस ने उनकी आवाज दबाने की कोशिश की और उन्हें सोशल मीडिया ग्रुप से निकालने की कोशिश की। जिनके पास कोई अंदरूनी डैमोक्रेसी नहीं होती वे जनता के लिए काम नहीं कर सकते।"

पहले क्या कहा था शहजाद ने?

- 30 नवंबर को शहजाद ने राहुल गांधी को कांग्रेस प्रेसिडेंट बनाए जाने पर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था, "यह सिलेक्शन है, इलेक्शन नहीं।" उन्होंने यह भी कहा था कि इस चुनाव में धांधली हो रही है। अगर सही ढंग से यह चुनाव हो तो वे भी इसमें भागीदारी कर सकते हैं।
- पूनावाला ने कहा था है कि प्रेसिडेंट पोस्ट के लिए होने वाले चुनाव में राहुल को फायदा पहुंचाने के लिए हेराफेरी की जा रही है। इसमें जो मेंबर वोट डालेंगे, उनके नाम फिक्स हैं। इसमें धांधली की गई है। उन्होंने चुनाव की इस प्रॉसेस को राहुल के पक्ष में बताते हुए आरोप लगाया था कि वो प्रेसिडेंट बनेंगे, क्योंकि वे गांधी परिवार से हैं।

राहुल गांधी को लिखा लेटर
- शहजाद ने राहुल गांधी को एक पत्र लिखकर पूछा था, "क्या कांग्रेस में प्रेसिडेंट की पोस्ट डायरेक्ट या इनडायरेक्ट रूप से सिर्फ ‘गांधी’ नाम वालों के लिए ही रिजर्व है?"
- इसके लिए उन्होंने कांग्रेस के एक स्पोक्सपर्सन के उस बयान का हवाला दिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगले 50 साल तक ‘गांधी’ ही कांग्रेस के प्रेसिडेंट होंगे?
- शहजाद ने कांग्रेस प्रेसिडेंट पोस्ट के चुनाव को पूरी तरह से मजाक बताया था। उन्होंने कहा, "मेरे जैसा एक कार्यकर्ता राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने की सोच भी सकता था, अगर उन्होंने उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया हुआ होता और एक सामान्य कांग्रेस कार्यकर्ता की तरह पार्टी प्रेसिडेंट की पोस्ट का चुनाव लड़ते।"
- उन्होंने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, "सच बोलने के लिए हिम्मत चाहिए, मेरे खिलाफ कई हमले होंगे, लेकिन मेरे पास सबूत हैं।"

आगे की स्लाइड्स में जानिए शहजाद पूनावाला के बारे में ...

X
In 10 points Know Who is Shehzad Poonawalla.
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..