Hindi News »Maharashtra »Pune »News» In Photos See How BMC Demolished Illegal Construction At Mumbai.

PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा

अतिक्रमण टीम लोअर परेल इलाके में सड़क किनारे अवैध रूप से दुकान लगाने वालों पर भी एक्शन ले रही है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 30, 2017, 02:06 PM IST

  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    बीएमसी की 25 टीमें अवैध निर्माण तोड़ने का काम कर रही है।

    मुंबई. कमला मिल कंपाउंड में गुरुवार देर रात लगी आग में 14 लोगों की दर्दनाक मौत के बाद बृहन्मुंबई महानगरपालिका(बीएमसी) भी एक्शन में आ गई है। बीएमसी ने 25 टीम बनाकर अवैध निर्माण के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। कमला मिल कंपाउंड और रघुवंशी मिल कंपाउंड में 30 से ज्यादा रेस्टोरेंट हैं, जिनमें से शनिवार को एक दर्जन रेस्टोरेंट पर कार्रवाई करते हुए अतिक्रमण टीम ने बुलडोजर के सहारे अवैध निर्माण को जमींदोज किया है। बीएमसी की टीम लोअर परेल इलाके में सड़क किनारे अवैध रूप से दुकान लगाने वालों पर भी एक्शन ले रही है। वर्ली इलाके में भी हुई कार्रवाई....

    - वर्ली में भी अवैध निर्माण को गिराया है। बीएमसी अधिकारियों के मुताबिक, लोवर पारेल और वर्ली में स्काईविव कैफे ने 1200 स्क्वायर फुट अवैध निर्माण किया हुआ था।

    - पनाया और शीशा स्काई बार पर भी बीएमसी का बुल्डोजर चला है। अधिकारियों का कहना है कि शनिवार और रविवार को भी अवैध निर्माण पर कार्रवाई जारी रहेगी।

    आरोपियों के खिलाफ लुकआउट नोटिस
    - मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में गुरुवार रात लगी भयावह आग के मामले में मुंबई पुलिस ने आज सभी आरोपियों के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है। साथ ही पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए 5 अलग टीमों का भी गठन किया है। बता दें कि इस मामले में पुलिस ने 3 पब मालिकों के खिलाफ केस दर्ज किया है। हादसे के बाद ही तीनों पब मालिक और पब के स्टाफ फरार हैं।

    इस हादसे में गई थी 14 की जान
    - गुरुवार रात को भीषण हादसे ने ली 14 जान कमला मिल कम्पाउंड की एक बिल्डिंग में बने तीन पबों, वन अबव रेस्त्रां, लंदन टैक्सी बार और मोजोज पब में गुरुवार रात भीषण आग लग गई।
    - आग सबसे पहले वन अबॉव रेस्त्रां में लगी और फिर धीरे-धीरे लंदन टैक्सी बार और मोजोज पब भी इसकी जद में आ गए। इस भीषण आग में फंसे लोग खुद को बचा पाने में असफल रहे। पब के बाथरुम में कई लोगों की लाशें पाईं गईं।
    - मृतकों में अधिकांश महिलाएं शामिल है जो पब में एक पार्टी में शामिल होने आई थीं। इस घटना में अभी तक 14 लोगों की मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है जबकि करीब 15 लोगों घायल हैं।

    बिना लाइसेंस के चल रहा था रेस्टोरेंट-पब
    - जानकारी के मुताबिक, जिस रेस्टोरेंट में आग सबसे पहले लगी, वो बगैर लाइसेंस के चल रहा था। रेस्टोरेंट मालिक पर गैर इरादतन हत्या के तहत मामला दर्ज किया गया है।
    - इस पूरे मामले से म्युजिक कंपोजर शंकर महादेवन के बेटे सिद्धार्थ महादेवन का नाम भी सामने आ रहा है। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, बिल्डिंग में स्थित मोजो बिस्त्रो रेस्तरां के मालिक हैं सिद्धार्थ महादेवन।
    -बीएमसी सूत्रों के मुताबिक, इस रेस्तरां के अपर सेक्शन में 25 गैस सिलिंडर रखे हुए थे।

    आगे की स्लाइड्स में देखिए मुंबई बीएमसी की कार्रवाई की कुछ और फोटोज ...

  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    बुलडोजर से गिराया जा रहा है अवैध निर्माण।
  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    मुंबई में कई जगहों पर एक दर्जन रेस्टोरेंट पर यह कार्रवाई हुई है।
  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    अगले एक सप्ताह यह कार्रवाई होगी।
  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    हथौड़ा से होटल और रेस्टोरेंट में कार्रवाई की जा रही है।
  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    कई अन्य रेस्टोरेंट में भी अवैध निर्माण गिराने का नोटिस दिया गया है।
  • PHOTOS: 14 मौतों के बाद खुली BMC की नींद, 25 टीमें ऐसे चला रही हैं हथौड़ा
    +6और स्लाइड देखें
    बीएमसी के पांच अधिकारियों पर भी कार्रवाई हुई है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×