Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Iqbal Kaskar Say He Spoke To Dawood Ibrahim On Phone.

दाऊद के भाई का खुलासा, गिरफ्तारी से पहले की थी बात, जज ने कहा-नंबर बताओ

कासकर ने सफाई दी कि जिस नंबर से फोन आया था वह उसके फोन पर डिस्प्ले नहीं हो रहा था।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 07, 2018, 09:24 AM IST

  • दाऊद के भाई का खुलासा, गिरफ्तारी से पहले की थी बात, जज ने कहा-नंबर बताओ
    +1और स्लाइड देखें
    अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की फाइल फोटो।

    ठाणे. फिरौती के एक मामले में अरेस्ट हुए डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर ने ठाणे की कोर्ट में बताया कि उसने अपनी गिरफ्तारी से पहले दाऊद इब्राहिम से फोन पर बात की थी। इसपर जज ने कहा कि वह दाऊद इब्राहिम का फोन नंबर बताए। इसके बाद कासकर ने सफाई दी कि जिस नंबर से फोन आया था वह उसके फोन पर डिस्प्ले नहीं हो रहा था। अपनी शर्तों पर भारत आना चाहता था दाऊद...

    - कासकर ने कोर्ट को यह भी बताया कि उसे यह नहीं पता है कि दाऊद फिलहाल कहां है।
    - इकबाल कासकर के वकील श्याम केसवानी ने बीच में दखल देते हुए कहा कि पहले दाऊद इब्राहिम भारत लौटना चाहता था और वकील राम जेठमलानी ने इसके लिए मध्यस्थता करने की भी कोशिश की थी।
    - दाऊद की शर्त यह थी कि उसे मुंबई के आर्थर रोड पर स्थ‍ित जेल में रखा जाए। लेकिन सरकार ने उसकी शर्त मानने से इंकार कर दिया था। केसवानी ने कहा कि इसी वजह से दाऊद भारत नहीं लौट पाया।
    - गौरतलब है कि कुछ महीनों पहले मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर एम.एन. सिंह ने भी यह खुलासा किया था कि दाऊद भारत आना चाहता था और इसके लिए वरिष्ठ अधिवक्ता राम जेठमलानी से संपर्क किया था।


    9 मार्च तक पुलिस हिरासत में रहेगा कासकर
    - ठाणे पुलिस ने इकबाल कासकर और उसके गैंग के सदस्यों के खिलाफ पिछले साल दर्ज फिरौती के तीसरे मामले में इकबाल कासकर के लिए पुलिस हिरासत की मांग की है।
    - वकील श्याम सुंदर केसवानी ने कोर्ट से कहा कि कासकर को डायबिटीज और पैर में चोट की वजह से इलाज की जरूरत है।
    - इसपर जज ने कासकर को 9 मार्च तक पुलिस हिरासत में भेजने का आदेश देते हुए कहा कहा कि उसका किसी सरकारी अस्पताल में इलाज कराया जाए।

    इन तीन मामलों में अरेस्ट है कासकर

    पहला केस
    - 18 सितंबर को कासकर को ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इकबाल को एक बिल्डर से जबरन उगाही और धमकी देने के आरोप में मुंबई में मौजूद उसकी बहन के घर से अरेस्ट किया गया था। इकबाल के अलावा 4 और लोगों की गिरफ्तारी हुई थी।
    - आरोप है कि कासकर बिल्डर से चार फ्लैट लेने के बाद पैसों की वसूली करना चाहता था।

    दूसरा केस
    - इकबाल पर दूसरा केस 24 सितंबर को मुंबई के दो ज्वैलर्स गौतम जैन और उनके पार्टनर निर्मल की शिकायत पर दर्ज हुआ था। दोनों ने कासकर पर मुमताज नाम के एक शख्स के
    जरिए पैसा मांगने और 8 लाख रुपए का गोल्ड लूटने का आरोप लगाया था।

    तीसरा केस
    - इकबाल कासकर ने एक बिल्डर से 3 करोड़ देने के लिए दबाव बनाया था। इसके बाद बिल्डर ने पुलिस से शिकायत की थी।
    - शिकायतकर्ता बिल्डर ने साल 2015 में गोराई में 38 एकड़ जमीन खरीदी थी। डील के तहत उसने जमीन के मालिक को टोकन मनी के रूप में 2 करोड़ रुपए दिए और डॉक्युमेंट्स तैयार कराए। इसके कुछ दिनों बाद जमीन के मालिक ने इसकी दोगुनी कीमत मांगनी शुरू कर दी, जिसके बाद पीड़ित बिल्डर ने सिविल केस फाइल कर दिया।
    - आरोप के मुताबिक, जमीन के मालिक ने बिल्डर से छुटकारा पाने के लिए इकबाल कासकर से कॉन्टैक्ट किया। इसके बाद इकबाल ने बिल्डर को फोन कर उसे धमकाना शुरू किया।

    पहले भी हो चुका है गिरफ्तार
    - इससे पहले इकबाल पर मुंबई के एक बिल्डर के चार फ्लैट कब्जा करने और दो ज्वैलर्स के करोड़ों के गोल्ड लूटने के दो केस दर्ज हैं।
    - इकबाल को 3 फरवरी 2015 को भी मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तब उस पर मो. सलीम शेख नाम के रियल एस्टेट एजेंट ने तीन लाख रुपए मांगने और पिटाई करने का आरोप लगाया था। इकबाल को 2003 में दुबई से प्रत्यर्पण (Extradition) करके लाया गया था। आने के बाद उस पर केस चला, लेकिन सबूत की कमी की वजह से वह बरी हो गया था।

  • दाऊद के भाई का खुलासा, गिरफ्तारी से पहले की थी बात, जज ने कहा-नंबर बताओ
    +1और स्लाइड देखें
    इन तीन मामलों में अरेस्ट है कासकर।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Pune News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Iqbal Kaskar Say He Spoke To Dawood Ibrahim On Phone.
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×