--Advertisement--

गिरफ्तारी के खिलाफ SC पहुंचे कमला मिल के मालिक, कहा गलत ढंग से पकड़ा गया

इस अग्निकांड में 14 लोग मारे गए थे।

Dainik Bhaskar

Mar 23, 2018, 04:46 PM IST
मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी भीषण आग में 14 लोगों की मौत हुई थी। मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी भीषण आग में 14 लोगों की मौत हुई थी।

मुंबई. कमला मिल के मालिक रवि भंडारी ने दिसंबर, 2017 में हुई अग्निकांड के सिलसिले में अपनी गिरफ्तारी को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी है। इस अग्निकांड में 14 लोग मारे गए थे। बता दें कि बंबई उच्च न्यायालय ने हाल ही में भंडारी की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। गैर इरादतन हत्या का मामला गलत: वकील...

- न्यायमूर्ति ए.के. सीकरी और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने भंडारी से कहा कि वह अपनी याचिका की एक प्रति महाराष्ट्र सरकार को दें।
- शीर्ष कोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 27 मार्च तय की है।
- भंडारी की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि उनकी गिरफ्तारी अवैध- हिरासत है और उनके खिलाफ गैर- इरादतन हत्या का आरोप नहीं लग सकता है।
- उन्होंने कहा कि शीर्ष न्यायालय भोपाल गैस त्रासदी और उपहार सिनेमा हॉल अग्निकांड में पहले ही कह चुका है कि यह लापरवाही के मामले हैं और जमानती अपराध हैं।

जेल में है कमला मिल के मालिक
- भंडारी को जनवरी महीने में दमकाल विभाग के अधिकारियों राजेंद्र पाटिल और उत्कर्ष पांडेय के साथ गिरफ्तार किया गया। - तीनों न्यायिक हिरासत में जेल में बंद हैं। कमला मिल में गत 29 दिसंबर, 2017 को लगी आग में 14 लोग मारे गये थे जबकि कई अन्य घायल हो गये थे।

कमला मिल्स कम्पाउंड में आग कैसे लगी?

- आग मुंबई के लोअर परेल इलाके के कमला मिल्स कम्पाउंड में बनी चार मंजिला बिल्डिंग में आग लगी। बिल्डिंग का नाम ट्रेड हाउस है। यह सेनापति बापट मार्ग पर मौजूद है।

- आधे घंटे में आग पूरी बिल्डिंग में फैल गई। बिल्डिंग में मौजूद लंदन टैक्सी रेस्टोरेंट, One Above और मोजोज पब जलकर खाक हो गए। मोजोज में खुशबू बंसल की बर्थडे पार्टी भी चल रही थी। पार्टी में 50 से ज्यादा लोग मौजूद थे।

कमला मिल में लगी आग में सामने आई लापरवाही

- कमला मिल में लगी आग में कई बड़ी गलतियां और लापरवाही सामने आई थीं, जो अगर ना होतीं तो समय रहते आग पर काबू पाया जा सकता था और लोगों की जानें भी बचाई जा सकती थीं।

इस हादसे में जो बातें सामने आई हैं वो हैं -

  • कमला मिल कंपाउंड में रेस्टोरेंट और कई टीवी चैनलों के ऑफिस हैं। रेस्टोरेंट में आग बुझाने वाले यंत्र नहीं थे।
  • फायर एक्जिट पर काफी सामान रखा हुआ था, जिसकी वजह से लोगों को निकलने का रास्ता नहीं मिला ताकि वो अपनी जान बचा सकें। नतीजा ? दम घुटने से 14 लोगों की मौत हो गई और 20 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।
  • सबसे बड़ी बात तो ये कि लोगों को बचाने की बजाय रेस्टोरेंट मैनेजमेंट के लोग ही पहले फरार हो गए।
मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी आग के बाद घायलों को बाहर लाते बचावकर्मी-फाइल फोटो। मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी आग के बाद घायलों को बाहर लाते बचावकर्मी-फाइल फोटो।
X
मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी भीषण आग में 14 लोगों की मौत हुई थी।मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी भीषण आग में 14 लोगों की मौत हुई थी।
मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी आग के बाद घायलों को बाहर लाते बचावकर्मी-फाइल फोटो।मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में लगी आग के बाद घायलों को बाहर लाते बचावकर्मी-फाइल फोटो।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..