Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Know How A Salesmen Become Director Of Luxury Car Company.

कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर

लग्जरी कार कंपनी पोर्श की बेस्ट सेलर कार 'पोर्श कयानी' का सबसे एडवांस वर्जन इस साल जून में इंडिया में लॉन्च होगा।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 25, 2018, 09:44 AM IST

  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    पवन ने लेम्बोर्गिनी को भारत में शुरू किया था।

    मुंबई.लग्जरी कार कंपनी पोर्श की बेस्ट सेलर कार 'पोर्श कयानी' का सबसे एडवांस वर्जन इस साल जून में इंडिया में लॉन्च होगा। बुधवार को कंपनी ने एक रिलीज जारी कर इसकी जानकारी सार्वजनिक की। इस मौके पर हम आपको पोर्श इंडिया के डायरेक्टर पवन शेट्टी की लाइफ के बारे में बताने जा रहे हैं जो कभी घर-घर जा सामान बेचा करते थे और आज दुनिया की सबसे महंगी कार कंपनी पोर्श के डायरेक्टर हैं। 6 महीने तक किया सेल्समैन का काम...

    - साल 2016 की जनवरी में ही पवन ने पोर्श इंडिया के डायरेक्टर का पद संभाला था।
    - अपने स्ट्रगल के बारे में बारे में पवन ने एक इंटरव्यू में बताया,"मैंने सेल्समैन का काम लगभग 6 महीने तक किया। यही वह जॉब थी, जिसने मुझे बोलना सिखा दिया। इस काम में 8-8 किमी तक भी चलना पड़ता था।"
    - सेल्समैन की नौकरी के बाद पवन ने एचएसबीसी बैंक में इंटरव्यू दिया। उन्होंने जनरल जॉब में रख लिया गया।

    मुंबई से किया एमबीए, प्लेसमेंट के जरिए पहुंचे टाटा

    - इंटरव्यू में पवन ने बताया था कि यहीं से उनका मन हुआ कि अब एमबीए करना है। लेकिन इसका भी ध्यान रखना था कि ज्यादा पैसे न खर्च हो जाएं। इसके बाद उन्होंने सीईटी का टेस्ट दिया और सिलेक्ट हो गए।
    - इसके बाद उन्हें मुंबई के सिडन्ह्म कॉलेज में दाखिला मिला। कॉलेज में पढ़ाई के दौरान ही उन्हें गुजरात की एक मोटर कंपनी में इंटर्नशिप का मौका मिला। वहां पवन ने लगभग 2 महीने तक इंटर्नशिप किया। इसके बाद कॉलेज प्लेसमेंट में उनका सिलेक्शन टाटा मोटर्स में बतौर प्रोडक्ट मैनेजर हो गया।

    गुजरात में फोर्ड के बिजनेस को सुधारा

    - टाटा मोटर्स के मुंबई ब्रांच में वे मैनेजर थे। वहां पर ट्रक की डील होती थी। टाटा मोटर्स में 2 साल तक काम करने के बाद उन्हें फोर्ड इंडिया से ऑफर मिला।
    - फोर्ड का गुजरात में बिजनेस ठीक नहीं चल रहा था। वहां पहले 2 साल पवन ने सेल्स का काम देखा। फिर अगले 2 साल तक सेल्स और मार्केटिंग दोनों का काम देखा।
    - उनके प्रयास से गुजरात में फोर्ड की हालत बहुत कुछ सुधर गई थी। यहीं से पवन को कारों का अंदाजा भी हो गया था।

    लेम्बोर्गिनी को भारत में किया शुरू

    - पवन ने बताया,"गुजरात में काम करते हुए एक कंसलटेंट ने जॉब के बारे में बताया। जहां 10-15 कारें बेचनी थी। मैं जब मीटिंग में पहुंचा तब मुझे पता चला कि ये लम्बोर्गिनी कंपनी है। दरअसल कंपनी इंडिया में ऑपरेशन की शुरुआत कर रही थी।"
    - पवन कहते हैं मुझे ऐसा लगने लगा कि जैसे बिना पैसे लगाए खुद का बिजनेस तैयार कर रहा हूं। सालों तक लम्बोर्गिनी के ऑपरेशन देखने के बाद पवन पोर्श इंडिया के डायरेक्टर बने।

    आगे की स्लाइड्स में देखिए पवन की कुछ चुनिंदा फोटोज....

  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    मुंबई से हुई है पवन की स्कूलिंग।
  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    पवन को हर दिन 8 किलोमीटर पैदल चल सामान बेचना पड़ता था।
  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    पोर्श इंडिया के डायरेक्टर हैं पवन।
  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    कभी पेट पालने के लिए पवन ने सेल्समैन की नौकरी की थी।
  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    पवन ने एचएसबीसी बैंक में भी काम किया।
  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    पवन ने टाटा मोटर्स में भी काम किया।
  • कभी घर-घर जा बेचा सामान, आज हैं इस लग्जरी कार कंपनी के डायरेक्टर
    +7और स्लाइड देखें
    दुनिया की महंगी कार कंपनी है पोर्श।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Pune News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Know How A Salesmen Become Director Of Luxury Car Company.
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×