Hindi News »Maharashtra Latest News »Pune News »News» Know How Mumbai Business Women -Nina Lekhi Start Her Business.

कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 08, 2018, 12:12 PM IST

उन्होंने सोचा जैसे टीशर्ट पर कुछ स्लोगन लिखे होते हैं, क्यों न इसी तरह के स्लोगन लिखे बैग तैयार किए जाएं।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    बैग ब्रांड बैगिट की फाउंडर हैं नीना लेखी।

    मुंबई. महिला उद्यमी नीना लेखी द्वारा संचालित एक्सेसरीज और बैग ब्रांड बैगिट ने फाइनेंशियल ईयर 2019 के लिए 25 परसेंट रेवेनुए ग्रोथ का टारगेट रखा है। नीना लेखी बचपन से ही पढ़ाई में अव्वल थी। अपनी क्लास के बाद मिलने वाले समय में उन्होंने ‘श्याम आहूजा’ के डिजाइनर शोरूम में नौकरी करनी शुरू कर दी थी। इसी दौरान उन्हें एक खास आइडिया मिला। उन्होंने सोचा जैसे टीशर्ट पर कुछ स्लोगन लिखे होते हैं, क्यों न इसी तरह के स्लोगन लिखे बैग तैयार किए जाएं। आज बैगिट कंपनी का सलाना टर्नओवर 160 करोड़ के पार है। लिफ्टमैन और जीप ठीक करने वाले से ली मदद...


    - नीना ने कमर्शियल आर्ट को बतौर करियर चुना और मुंबई के सोफिया पॉलिटेक्निक कॉलेज में दाखिला लिया।
    - नीना ने केवल टाइम पास के लिए बैग बनाने के अपने आइडिया पर काम शुरू किया।
    - इसमें उन्होंने लिफ्टमैन और एक जिप ठीक करने वाले की मदद से सादे कैनवस से बैग बनाने शुरू किए।
    - वहीं अपने डिजाइनर स्टोर के मालिक से बैग के बेचने की इजाजत मिल गई।

    लिखने शुरू किए एटीट्यूड वाले कोट
    - नीना की मुलाकात अपनी सहेली के भाई मनोज से हुई। मनोज कपड़ों की एग्जीबिशन और सेल लगाया करते थे।
    - उन्हें नीना के बनाए बैग बेहद पसंद आए और इन्हें बेचने का फैसला लिया।
    - नीना ने कुछ नया एक्सपेरिमेंट करने के लिए सादे बैग की जगह कुछ एटीट्यूड वाले कोट लिखने शुरू कर दिए।
    - नीना को उस समय एक बैग बनाने में लगभग 25 रुपए खर्च करने पड़ते थे। जबकि वह बाजार में इसे 60 रुपए में बेचती थीं। ऐसे में उन्हें पचास फीसदी से भी ज्यादे का प्रॉफिट हुआ।

    माइकल जैक्सन के डांस पर कंपनी का नाम
    - तीन साल में नीना के बनाए बैगों की बिक्री दस गुना बढ़ गई। इससे प्रेरित होकर उन्होंने लेदर के बैग भी बनाने की कोशिश की।
    - लेकिन बदबू की वजह से उन्होंने जानवरों की खाल इस्तेमाल न करते हुए सिंथेटिक लैदर के बैग बनाए।
    - वहीं, देश में बढ़ते मोबाइल खरीदारों को देखकर नीना ने बेल्ट, वॉलेट जैसे दूसरे एक्सेसरीज भी बनाने शुरू किये।
    - नीना माइकल जैक्सन की बहुत बड़ी फैन हैं और उनकी बीट इट पर ही उन्‍होंने कंपनी का नाम ‘बैगिट’ रखा।

  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    तीन साल में नीना के बनाए बैगों की बिक्री दस गुना बढ़ गई।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    इनके बने बैग महिलाओं में बहुत पॉपुलर हैं।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    कई बड़े बॉलीवुड सेलेब्रिटीज इनके बैग को लॉन्च कर चुके हैं।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    नीना लेखी बचपन से ही पढ़ाई में अव्वल थी।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    नीना ने मुंबई के सोफिया पॉलिटेक्निक कॉलेज से पढ़ाई की है।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    नीना ने कुछ नया एक्सपेरिमेंट करने के लिए सादे बैग की जगह कुछ एटीट्यूट वाले कोट लिखने शुरू कर दिए।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    नीना ने बैग को लेकर लोगों की सोच में बदलाव किया।
  • कभी टाइमपास के लिए किया ये काम, ऐसे एक आइडिया ने बना दिया करोड़पति
    +8और स्लाइड देखें
    नीना की लाइफ पर बुक लिखी जा चुकी है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Pune News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Know How Mumbai Business Women -Nina Lekhi Start Her Business.
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×