Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Know How New Year Celebrated In Pune Osho Meditation Resort.

ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर

इस खास सेलिब्रेशन में शामिल होने के लिए 39 देशों से लोग आये हुए थे।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 07:59 AM IST

  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    पुणे के कोरेगांव पार्क इलाके में स्थित ओशो मेडीटेशन रिजार्ट में न्यू ईयर का जश्न ऐसे मनाया गया।

    पुणे. नए साल यूं तो पूरे विश्व में नाच गाने में मस्त होकर जश्न और जोश के साथ सेलिब्रेट किया गया। लेकिन पुणे के ओशो मेडिटेशन रिसोर्ट में इसका अंदाज कुछ अलग ही था। इस साल यहां नया साल 'वन वर्ल्ड वन सेलिब्रेशन।' थीम के साथ सेलिब्रेट हुआ। इस खास सेलिब्रेशन में शामिल होने के लिए 39 देशों से लोग पुणे आये हुए थे। 65 शहरों से आये 800 फॉलोअर हुए थे शामिल...

    - मेडिटेशन रिजार्ट की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, इंडिया के 18 राज्यों के 65 शहरों से आये 800 लोग इस सेलिब्रेशन का हिस्सा बने। यहां पांच दिन पहले से ही जश्न का माहौल बन गया था।
    - यहां हर रोज एक तरफ देश-विदेश से आये हुए हजारों लोग दिन भर तरह-तरह की एक्टिविटीज में शामिल होकर आत्मिक स्वास्थ्य और सुकून का आनंद ले रहे थे वहीं दूसरी तरफ रात में तेज म्यूजिक की धुन पर थिरक रहे थे।

    नये साल के स्वागत के लिए दो टाइप के प्रोग्राम

    - ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में एक तरफ वर्ल्ड म्युजिक के साथ डांस सेलिब्रेशन और दूसरी तरफ ओशो के ध्यान कक्ष में ध्यान का आयोजन भी किया गया था।
    - ओशो के लोग आधी रात मौन रहकर नये साल में प्रवेश करते हैं। यह एक अद्भुत अनुभव होता है।
    - इसके पीछे उनके साधकों का मानना है कि साल के पहले दिन आपके मन में जो विचार होता है वही अगले साल की दिशा तैयार करते हैं। अगर उस दिन आप रातभर बेहोश होकर नृत्य और शराब की मस्ती में डूबे रहे तो अगले साल बेहोशी में जागेंगे। यह बेहोशी अगले साल की आधारशिला बनेगी।
    - 31 दिसंबर को ठीक बारह बजे मेडिटेशन रिजार्ट में एक तरफ पटाखे फूट रहे थे, संगीत की धुन चरम शिखर पर थी और दूसरी तरफ ओशो के फॉलोअर ध्यान कक्ष में मौन बैठ कर नये साल का स्वागत कर रहे थे।

    नए साल को लाकर यह थे ओशो के विचार
    - आपको बता दें कि नये साल के विषय में ओशो के विचार अनोखे हैं। वे कहते थे, "जिसे आप नया कहते हैं वह पुराने की तुलना में नया होता है। अगर भूत और भविष्य को छोड़ दें तो वर्तमान भी बेमानी हो जाएगा। समय के टुकड़े मत करो, समय एक ही है: 'अभी' और स्थान एक ही है "यहां" (हियर एण्ड नाऊ) इसलिए 'हैपी न्यू ईयर' ना कहें, 'हैपी नाऊ हियर' कहें।"
    - इसका पालन करते हुए बारह बजने के बाद सारे फॉलोअर एक दूसरे को यही कहते हुए शुभकामनाएं दे रहे थे, 'हैपी नाऊ हियर।'

  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    'वन वर्ल्ड वन सैलिब्रेशन' थीम पर हुआ था ये सेलिब्रेशन।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    इस कार्यक्रम में 39 देशों से आये लोग शामिल हुए थे।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में एक तरफ संगीत की धुन पर सेलिब्रेशन हो रहा था।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    दूसरी तरफ शांत बैठ लोग ओशो को याद कर न्यू ईयर सेलिब्रेट कर रहे थे।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    इसमें 18 राज्यों के 65 शहरों से ओशो के फॉलोअर आये थे।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    कैंपस में ऐसे ह्यूमन स्टैचू बनाये गए थे।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    लोगों ने ऐसे झूमते हुए सेलिब्रेट किया न्यू ईयर।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    इस बार 'वन वर्ल्ड वन सेलिब्रेशन' थीम से यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    12 बजते ही लोग जश्न में झूम उठे।
  • ओशो मेडिटेशन रिजार्ट में ऐसे सेलिब्रेट हुआ न्यू ईयर, 39 देशों से आये थे फॉलोअर
    +10और स्लाइड देखें
    नए साल के स्वागत के लिए ओशो मेडिटेशन रिजार्ट को कलरफुल ढंग से सजाया गया था।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×