--Advertisement--

मुंबई: मंत्रालय की छठवीं मंजिल से युवक ने लगाई छलांग, दो दिन में दूसरी घटना

सुरेश रावते नामक युवक ने मंत्रालय की छठवीं मंजिल के छलांग लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है।

Danik Bhaskar | Feb 08, 2018, 07:59 PM IST
मंत्रालय के पांचवें फ्लोर से ग मंत्रालय के पांचवें फ्लोर से ग

मुंबई. महाराष्ट्र मंत्रालय परिसर के भीतर और सामने आत्महत्या करने की घटनाएं रूकने का नाम नहीं ले रही हैं। बुधवार को जहां अहमदनगर के 25 वर्षीय दिव्यांग युवक अविनाश शेटे ने मंत्रालय के गेट के सामने आत्मदाह करने की कोशिश की थी, वहीं गुरुवार को 35 वर्षीय हर्षल सुरेश रावते नामक युवक ने मंत्रालय की छठवीं मंजिल के छलांग लगाकर आत्महत्या कर लिया।सुसाइड का कारण स्पष्ट नहीं ...

- मंत्रालय की छठवीं मंजिल के छलांग लगाने वाले युवक हर्षल को सेंट जॉर्ज अस्पताल में ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

- उसके पास से मिले दस्तावेज से पता चला है कि वह महाराष्ट्र विधि सेवा प्राधिकरण में कार्यरत है।
- इसके अलावा उसकी जेब से एक पत्र भी बरामद हुआ है। जिसमें एक न्यायाधिश के नाम से कुछ डिटेल लिखी हुई है।
- हर्षल ने आत्महत्या का प्रयास क्यों किया? फिलहाल इसका पता नहीं चल पाया है।

लगातार हो रहे हैं सुसाइड के प्रयास
- हालांकि, इस घटना की सूचना मिलते ही। विधान भवन में गट नेताओं की बैठक में उपस्थित एनसीपी के वरिष्ठ नेता अजित पवार, जयंत पाटिल और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष धनंजय मुंडे फौरन घटनास्थल पर हकीकत जानने पहुंच गये।
- गौरतलब है कि 22 फरवरी को मंत्रालय के भीतर धर्मा पाटिल नामक किसान ने जहर पी लिया था। जिसकी कुछ दिनों बाद अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।
- इस घटना के बाद से लगातार मंत्रालय के अंदर और बाहर संकट में फंसे किसानों व बेरोजगार युवकों द्वारा किसी न किसी कारणवश आत्महत्या करने का सिलसिला शुरू हो गया है।

हत्या का आरोपी था मृतक

- इस घटना के बाद मौके पर पहुंचे महाराष्ट्र के मंत्री विनोद तावड़े ने कहा,"जब हमने युवक के बारे में पता करने के लिए उसके घर फोन किया तो पता चला कि वह मर्डर के एक मामले का आरोपी है और पैरोल पर बाहर आया हुआ था। यह सुसाइड है या एक्सीडेंट इस मामले में जांच जारी है।