--Advertisement--

बंदर को पेड़ से उल्टा लटका कर मौत होने तक पिटता रहा युवक, वीडियो वायरल

फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने बंदर की पिटाई करने वाला युवक और उसके दो नाबालिग दोस्तों को हिरासत में लिया है।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 10:31 AM IST

वाशिम(महाराष्ट्र) . जिले के रिसोड़ तहसील के कुरा गांव में एक युवक ने पीट-पीटकर एक बंदर की हत्या कर दी। घटना शनिवार की बताई जा रही है। इसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने एक युवक और उसके दो नाबालिग दोस्तों को हिरासत में लिया था। रविवार को दोनों को अरेस्ट कर लिया गया। क्या है पूरा मामला?


- जानकारी के मुताबिक, शनिवार को कुरा गांव में एक बंदर खेतों में घूम रहा था। उसी समय पवन बांगर नामक युवक अपने दोस्तों के साथ वहां से जा रहा था। पवन और उसके दोस्तों ने बंदर को कुछ खाने देने के बहाने पास बुला लिया और पकड़ लिया। इसके बाद पवन ने उसकी लाठी से पिटाई शुरू कर दी। गंभीर रूप से घायल हुए बंदर को पवन ने खेत में एक पेड़ से उलटा लटकाया फिर से उसकी लाठी से तब तक पिटाई करता रहा, जब तक बंदर की मौत नहीं हो गई।पवन जब पिटाई कर रहा था, तब उसने दोस्तों से इसका वीडियो बनाने के लिए कहा। बंदर की पिटाई का वीडियो पवन ने वॉट्सऐप ग्रुप पर शेयर किया। इसके बाद यह वीडियो वायरल हुआ।

दोनों आरोपी हुए अरेस्ट

- वीडियो वायरल होने के बाद शनिवार रात फॉरेस्ट डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने पवन और उसके दो नाबालिग साथियों को हिरासत में ले लिया। रविवार को दोनों पर पशु क्रूरता अधिनियम की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर अरेस्ट कर लिया गया।

महाराष्ट्र के वाशिम जिले की घटना- एक युवक और उसके दो दोस्तों ने बंदर को पकड़ लिया। युवक तब तक बंदर की पिटाई करता रहा, जब तक उसकी मौत नहीं हो गई। महाराष्ट्र के वाशिम जिले की घटना- एक युवक और उसके दो दोस्तों ने बंदर को पकड़ लिया। युवक तब तक बंदर की पिटाई करता रहा, जब तक उसकी मौत नहीं हो गई।
बंदर को पकड़ने के बाद युवक ने उसकी कमर में रस्सी बांध दी थी। इसके बाद बंदर पर जमकर लाठियां बरसाईं। बंदर को पकड़ने के बाद युवक ने उसकी कमर में रस्सी बांध दी थी। इसके बाद बंदर पर जमकर लाठियां बरसाईं।
यह वीडियो वॉट्सऐप पर वायरल किया। यह वीडियो वॉट्सऐप पर वायरल किया।
वीडियो वायरल होने के बाद फाॅरेस्ट डिमार्टमेंट ने उसे और उसके दोस्तों को हिरासत में ले लिया। वीडियो वायरल होने के बाद फाॅरेस्ट डिमार्टमेंट ने उसे और उसके दोस्तों को हिरासत में ले लिया।