--Advertisement--

लोग तोड़ रहे थे तेजस एक्सप्रेस में LCD स्क्रीन, रेलवे ने हटाने का किया फैसला

कुछ ही दिनों में कई एलसीडी स्क्रीन या तो तोड़ी गई या खराब कर दी गई।

Dainik Bhaskar

Mar 15, 2018, 11:33 AM IST
एलसीडी स्क्रीन हटा कर रेलवे इस एलसीडी स्क्रीन हटा कर रेलवे इस

मुंबई. रेल मंत्रालय ने मुंबई से गोवा जानेवाली तेजस ट्रेन में एलसीडी स्क्रीन की सुविधा बंद करने का फैसला किया है। रेलवे का कहना है की यात्री इनमें मिल रही सुविधाओं का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। कुछ ही दिनों में कई एलसीडी स्क्रीन या तो तोड़ी गई या खराब कर दी गई।

- रेलवे ने सबसे पहली तेजस ट्रेन को मुंबई से गोवा के बीच में शुरू किया था। तेजस के शुरु होने के पहले ही दिन ट्रेन के अंदर कई चादर और तकिये तक चोरी होने की खबर आई थी।
- रेलवे द्वारा एलसीडी स्क्रीन हटाने के फैसले से इन दोनों ट्रेनों पर यात्री वीडियो गेम्स खेलना, मूवी देखना और गाने नहीं सुन पाएंगे।

अनुभूति एक्सप्रेस से भी हटेंगे एलसीडी स्क्रीन
- अहमदाबाद-मुंबई शताब्दी एक्सप्रेस में लगे अनुभूति कोचों में भी ऐसी एलसीडी स्क्रीन्स थीं, जिन्हें हाल ही में हटाने का फैसला लिया गया है।
- अकसर रेलवे को एलसीडी स्क्रीन्स के वायर टूटे मिलते थे, स्क्रीन को नुकसान पहुंचाया जाता था या फिर पावर स्विच ही हटे मिलते थे। ऐसे में रेलवे ने अब यात्रियों से इस सुविधा को ही वापस लेने का फैसला ले लिया है।

मिलेगी वाईफाई की सुविधा
- एलसीडी स्क्रीन को हटाने के बाद रेलवे यात्रियों को वाईफाई की सुविधा देने पर विचार कर रहा है, जिससे लोग अपने फोन और लैपटोप में ही फिल्म और गाने देख सके।
- ट्रेन में ऑटोमेटिक डोर, जीपीएस, फायर स्मोक डिटेकशन सिस्टम, सीसीटीवी इत्यादी जैसी चीजे हैं।

तेजस में क्या है खासियत?

- इसमें टी-कॉफी वेंडिंग मशीनें, मैगजीन्स और स्नैक टेबल्स, हर पैसेंजर के लिए LCD स्क्रीन, बायो-वैक्यूम टॉयलेट्स में वाटर लेवल इंडिकेटर्स, सेंसर्ड टैप और हैंड ड्रायर्स (हाथ को सुखाने वाली मशीनें) लगे हैं।

- सेलिब्रिटी शेफ द्वारा तैयार मनपसंद खाना परोसा जाता है, वाई-फाई फैसिलिटी और टॉयलेट इंगेजमेंट बोर्ड भी लगे हैं। ट्रेन के अंदर का कलर बाहर के कलर से मैच करता है, जिससे पैसेंजर्स को वर्ल्ड क्लास ट्रैवलिंग का अहसास मिलता है।
- ट्रेन में LCD स्क्रीन को पैसेंजर के मनोरंजन के मकसद से लगाया गया है, लेकिन इसका इस्तेमाल पैसेंजर को उससे जुड़ी इन्फॉर्मेशन और सेफ्टी इंस्ट्रक्शन के लिए भी होता है। हर कोच में इंटिग्रेटेड ब्रेल डिस्प्ले, डिजिटल डेस्टिनेशन बोर्ड्स और इलेक्ट्रॉनिक रिजर्वेशन चार्ट लगे हैं।
- एग्जीक्यूटिव क्लास और चेयर कार वाली तेजस एक्सप्रेस में कैटरिंग सर्विस राजधानी और शताब्दी ट्रेनों की तरह है। इसके कोच में 22 नए फीचर्स हैं, इनमें आग और धुएं का पता लगाने वाला और उन्हें रोकने वाला सिस्टम भी शामिल है।

X
एलसीडी स्क्रीन हटा कर रेलवे इसएलसीडी स्क्रीन हटा कर रेलवे इस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..