--Advertisement--

दान पुण्य के साथ हुई दिन की शुरुआत, मंदिरों में लगा श्रद्धालुओं का तांता

पुणे के प्रसिद्ध दगडूसेठ गणपति मंदिर में सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है।

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2018, 01:05 PM IST
मकरसंक्रांति के पर्व पर पुणे के दत्त मंदिर में 151 किलो तिल गुड के प्रसाद का भोग लगाया है। मकरसंक्रांति के पर्व पर पुणे के दत्त मंदिर में 151 किलो तिल गुड के प्रसाद का भोग लगाया है।

पुणे। महाराष्ट्र में मकर संक्रांति का महापर्व रविवार को पूरे जोश के साथ मनाया जा रहा है। लोगों ने अपने दिन की शुरूआत मंदिरों में भगवान के दर्शन के साथ की। पुणे के प्रसिद्ध दगडूसेठ गणपति मंदिर में सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है। दान पुण्य के इस पर्व पर मंदिर में तिल गुड का भोग लगाया जा रहा है।


-महाराष्ट्र में रविवार की सुबह बड़ी संख्या में श्रद्धालु मंदिरों में उमड़ पड़े। मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर, पंढरपुर के विट्ठल मंदिर और कोल्हापुर के महालक्ष्मी मंदिर में सुबह से हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है।
-श्रद्धालुओं ने मंदिर में खिचड़ी, तिल-गुड़ के लड्डू भेंट किए। वहीं मंदिरों के बाहर गायों को हरा चारा डाला। मकर संक्रांति बेहद शुभ दिन माना जाता है इसलिए लोग अपने दिन की शुरूआत शुभ काम के साथ करते हैं।


दान पुण्य का पर्व

- ऐसी मान्यता है कि मकर संक्रांति पर जौ का दान शुभ होता है। जैसे होली पर गेहूं शुभ होता है।
- जौ की तासीर गर्म होती है इसलिए यह शुभ होने के साथ-साथ सेहत के लिए अच्छा माना जाता है।
- लोग खिचड़ी, तिल-गुड़ के लड्डू भी भेंट करते हैं। तिल व गुड़ दोनों की तासीर गर्म होती है। सर्दियों में यह सेहत के लिए अच्छा होता है। इसलिए मंदिरों में इसका भोग लगाया जाता है तथा गरीबों में दान किया जाता है।

-मकर संक्रांति के पर्व पर पिंपरी स्थित थिसेनक्रुप की ओर से आदिवासी महिलाओं को साड़ियां बांटी गई।


मौसम में भी होता है ये बदलाव

- मकर संक्रांति पर मौसम में भी बदलाव होता है। इसलिए भगवान सूर्य को अर्ध्य देकर दिन की शुरूआत की जाती है।
- आज के दिन ही सूर्य का मकर राशि में प्रवेश होता है। दोपहर 1.47 बजे सूर्य मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। वहीं पुण्यकाल सुबह 7.21 बजे शुरू हो गया जो दिन भर चलेगा। यानी पूरे दिन भर दान-पुण्य किया जा सकेगा।

मकर संक्रांति के पर्व पर पिंपरी स्थित थिसेनक्रुप की ओर से आदिवासी महिलाओं को साड़ियां बांटी गई। मकर संक्रांति के पर्व पर पिंपरी स्थित थिसेनक्रुप की ओर से आदिवासी महिलाओं को साड़ियां बांटी गई।
X
मकरसंक्रांति के पर्व पर पुणे के दत्त मंदिर में 151 किलो तिल गुड के प्रसाद का भोग लगाया है।मकरसंक्रांति के पर्व पर पुणे के दत्त मंदिर में 151 किलो तिल गुड के प्रसाद का भोग लगाया है।
मकर संक्रांति के पर्व पर पिंपरी स्थित थिसेनक्रुप की ओर से आदिवासी महिलाओं को साड़ियां बांटी गई।मकर संक्रांति के पर्व पर पिंपरी स्थित थिसेनक्रुप की ओर से आदिवासी महिलाओं को साड़ियां बांटी गई।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..