--Advertisement--

खुलेआम हो रही थी रेत तस्करी, पकड़ने गई तहलीदार को जिंदा जलाने की हुई कोशिश

राजस्व विभाग के कर्मचारियों ने समय पर मौके पर पहुंचकर तहसीलदार की जान बताई।

Danik Bhaskar | Dec 14, 2017, 01:16 PM IST
पोकलेन मशीन में सवार तहसीलदार को रेत तस्करों ने डीज़ल छिड़ककर जिंदा जलाने की कोशिश की। पोकलेन मशीन में सवार तहसीलदार को रेत तस्करों ने डीज़ल छिड़ककर जिंदा जलाने की कोशिश की।

अहमदनगर. पारनेर तहसील के कोहकड़ी गांव में रेत माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने गई महिला तहसीलदार को डीज़ल छिड़ककर जिंदा जलाने की कोशिश की गई। राजस्व विभाग के कर्मचारियों ने समय पर मौके पर पहुंचकर तहसीलदार की जान बताई। पुलिस ने इस मामले में रेत माफिया के 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। यह है पूरा मामला.....


-बुधवार को तहसीलदार सागरे भारती सागर और उनकी टीम रेत माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने कोहडीगांव पहुंची थी। उनके साथ दो पुलिसवाले भी थे।
-तहसीलदार और उनकी टीम नदी से रेत से लदे दो ट्रेक्टर और एक पोकलेन मशीन जब्त किया। यह ट्रेक्टर रेत माफिया भगा ने ले जाए इसलिए कर्मचारी उस पर सवार हो गए।
-वहीं भारती सागरे भी पोकल की ड्राइवर सीट पर बैठ गई। इससे रेत माफिया वाहन भगा ले नहीं जा सके।
-कुछ देर बाद 10 से 15 रेत तस्कर इकट्ठा हुए और उन्होंने पोकलेन से डीज़ल निकाला और वह भारती सागरे पर छिड़का।
-रेत तस्कर भारती को जिंदा जलाने ही वाले थे तभी ट्रेक्टर पर सवार कर्मचारी उनके पास आए और उन्हें पोकलेन से बाहर निकाला।
यह मौका देख रेत तस्कर दोनों ट्रेक्टर ले गए। तहसीलदार सागरे ने इस बारे में पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
पुलिस ने उनकी शिकायत के बाद 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दो लोगों को हिरासत में ले लिया है।

तहसीलदार भारती सागरे ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। तहसीलदार भारती सागरे ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।