--Advertisement--

कभी कमर और पेट से जुड़े थे ये भाई, अब ऐसी लाइफ जी रहे हैं ये बच्चे

सोमवार को डॉक्टर्स की सलाह के बाद दोनों को डिस्चार्ज किया गया।

Dainik Bhaskar

Feb 06, 2018, 10:01 AM IST
पूरी तरह से फिट होने के बाद प्रिंस और लव को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किया गया। इनसेट में एक दूसरे से जुड़े हुए दोनों भाई। पूरी तरह से फिट होने के बाद प्रिंस और लव को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किया गया। इनसेट में एक दूसरे से जुड़े हुए दोनों भाई।

मुंबई. शरीर से जुड़े हुए मुंबई के लव और प्रिंस पिछले साल दिसंबर महीने में एक दूसरे से अलग कर दिए गए थे। 20 डॉक्टर्स की टीम ने लगातार 12 घंटे की सर्जरी के बाद इन्हें एक दूसरे से अलग किया था। इसके बाद से वे मुंबई के वाडिया हॉस्पिटल में एडमिट थे। सोमवार को डॉक्टर्स की सलाह के बाद दोनों को डिस्चार्ज किया गया। हॉस्पिटल ने बताया कि दोनों एक दम फिट हैं, इसलिए अब इन्हें डिस्चार्ज किया जा रहा है। 2016 में हुआ था लव और प्रिंस का जन्म...

- 2016 में वाडिया हॉस्पिटल में मुंबई के घाटकोपर की रहने वाली शीतल झाल्टे ने इन बच्चों को जन्म दिया था।
- दोनों बच्चे लव और प्रिंस जन्म से ही कमर और पेट से एक-दूसरे से जुड़े थे। जन्मजात आपस में जुड़े होने के कारण बच्चों के कई अंग कॉमन थे।

- सर्जरी के बाद से दोनों बच्चों को सघन निगरानी में रखा गया था।
- लव और प्रिंस से पहले इस हॉस्पिटल में डॉक्टर्स ने रिद्धि और सिद्धि नाम की दो बच्चियों को सर्जरी कर अलग किया था।

डेढ़ साल से चल रहा था इलाज
- लव और प्रिंस की मां जब प्रेग्नेंट थीं तो वे 24वें वीक में हॉस्पिटल जांच करवाने आई थीं। इस दौरान डॉक्टर्स ने उन्हें जुड़वां बच्चों के शरीर जुड़े होने की बता बताई थी। ये बात सुनकर वे घबरा गईं।
- तब शीतल ने अबॉर्शन कराने की बात सोची, लेकिन डॉक्टर्स के समझाने के बाद उन्होंने बच्चों को जन्म देने का फैसला लिया। 19 सितंबर 2016 को बच्चों का जन्म हुआ, तब से ही बच्चे हॉस्पिटल की देख-रेख में थे।

दो बच्चों में एक लिवर
- एक्सपर्ट्स के अनुसार कॉन्जाइंड बच्चों में सबसे बड़ी दिक्कत कॉमन अंगों की होती है। कई बार दो बच्चों के बीच एक ही लिवर और दो या तीन किडनी होते हैं। ऐसे में सर्जरी के वक्त काफी सतर्कता बरतनी पड़ती है। लव और प्रिंस के मामले में भी कुछ ऐसा ही था।
- सर्जरी करनी वाली डॉक्टर पी. बेंद्रे ने कहा था कि लव और प्रिंस पेट और कमर से जुड़े थे। ऐसे में उनके लिवर, इंटेंस्टाइन और यूरिनरी ब्लैडर एक ही थे। सर्जरी के दौरान जरा-सी चूक भी बड़ी मुसीबत बन सकती थी। चूंकि लिवर एक ही था, हमने सर्जरी के दौरान उनके लिवर को काटकर दो बना दिया। इसी तरह अन्य अंगों को भी दो बनाना पड़ा।

पेट के नीचे के हिस्से से आपस में जुड़े हुए थे दोनों भाई। पेट के नीचे के हिस्से से आपस में जुड़े हुए थे दोनों भाई।
12 घंटे की सर्जरी के बाद दोनों के अलग किया गया था। 12 घंटे की सर्जरी के बाद दोनों के अलग किया गया था।
फिलहाल दोनों फिट हैं और दोनों के ऑर्गन प्रॉपर काम कर रहे हैं। फिलहाल दोनों फिट हैं और दोनों के ऑर्गन प्रॉपर काम कर रहे हैं।
ऑपरेशन के बाद से दोनों एक्सपर्ट डॉक्टर्स की निगरानी में रखा गया था। ऑपरेशन के बाद से दोनों एक्सपर्ट डॉक्टर्स की निगरानी में रखा गया था।
20 डॉक्टर्स की टीम ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था। 20 डॉक्टर्स की टीम ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था।
अपने माता-पिता के साथ प्रिंस और लव। अपने माता-पिता के साथ प्रिंस और लव।
मुंबई के वाडिया हॉस्पिटल में हुआ दोनों का ऑपरेशन। मुंबई के वाडिया हॉस्पिटल में हुआ दोनों का ऑपरेशन।
ऑपरेशन के बाद से दोनों आईसीयू में थे। ऑपरेशन के बाद से दोनों आईसीयू में थे।
मुंबई के वाकोला इलाके के रहने वाले हैं लव और प्रिंस। मुंबई के वाकोला इलाके के रहने वाले हैं लव और प्रिंस।
दो बच्चों में एक लिवर था। दो बच्चों में एक लिवर था।
दोनों का समय से पहले जन्म हुआ था। दोनों का समय से पहले जन्म हुआ था।
एक वर्ष तीन माह की नाजुक उम्र में लव और प्रिंस की काफी जटिल सर्जरी की गई है। एक वर्ष तीन माह की नाजुक उम्र में लव और प्रिंस की काफी जटिल सर्जरी की गई है।
X
पूरी तरह से फिट होने के बाद प्रिंस और लव को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किया गया। इनसेट में एक दूसरे से जुड़े हुए दोनों भाई।पूरी तरह से फिट होने के बाद प्रिंस और लव को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किया गया। इनसेट में एक दूसरे से जुड़े हुए दोनों भाई।
पेट के नीचे के हिस्से से आपस में जुड़े हुए थे दोनों भाई।पेट के नीचे के हिस्से से आपस में जुड़े हुए थे दोनों भाई।
12 घंटे की सर्जरी के बाद दोनों के अलग किया गया था।12 घंटे की सर्जरी के बाद दोनों के अलग किया गया था।
फिलहाल दोनों फिट हैं और दोनों के ऑर्गन प्रॉपर काम कर रहे हैं।फिलहाल दोनों फिट हैं और दोनों के ऑर्गन प्रॉपर काम कर रहे हैं।
ऑपरेशन के बाद से दोनों एक्सपर्ट डॉक्टर्स की निगरानी में रखा गया था।ऑपरेशन के बाद से दोनों एक्सपर्ट डॉक्टर्स की निगरानी में रखा गया था।
20 डॉक्टर्स की टीम ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था।20 डॉक्टर्स की टीम ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था।
अपने माता-पिता के साथ प्रिंस और लव।अपने माता-पिता के साथ प्रिंस और लव।
मुंबई के वाडिया हॉस्पिटल में हुआ दोनों का ऑपरेशन।मुंबई के वाडिया हॉस्पिटल में हुआ दोनों का ऑपरेशन।
ऑपरेशन के बाद से दोनों आईसीयू में थे।ऑपरेशन के बाद से दोनों आईसीयू में थे।
मुंबई के वाकोला इलाके के रहने वाले हैं लव और प्रिंस।मुंबई के वाकोला इलाके के रहने वाले हैं लव और प्रिंस।
दो बच्चों में एक लिवर था।दो बच्चों में एक लिवर था।
दोनों का समय से पहले जन्म हुआ था।दोनों का समय से पहले जन्म हुआ था।
एक वर्ष तीन माह की नाजुक उम्र में लव और प्रिंस की काफी जटिल सर्जरी की गई है।एक वर्ष तीन माह की नाजुक उम्र में लव और प्रिंस की काफी जटिल सर्जरी की गई है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..